स्कॉलरशिप पोर्टल पर स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर के अंतर्गत पोर्टल के इंस्टीट्यूट नोडल अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही किए जाने के निर्देश

 स्कॉलरशिप पोर्टल पर स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर के अंतर्गत पोर्टल के इंस्टीट्यूट नोडल अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही किए जाने के निर्देश



फतेहपुर ।मुख्य विकास अधिकारी  सत्य प्रकाश ने भारत सरकार द्वारा संचालित प्रीमैट्रिक, पोस्ट मैट्रिक एवं मेरिट- कम- मीन्स" छात्रवृत्ति वर्ष 2020 -21 के क्रियान्वयन हेतु नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर के अंतर्गत पोर्टल के इंस्टीट्यूट नोडल अधिकारियों को निम्न आवश्यक कार्यवाही किए जाने के निर्देश दिए है।इंस्टीट्यूट नोडल अधिकारी स्तर-1 के सत्यापन का उत्तरदायित्व होगा कि ऑनलाइन आवेदन पत्रों के साथ आय प्रमाण पत्र, आधार कार्ड की छाया प्रति बोनाफाइड सर्टिफिकेट एवं बैंक पासबुक की छायाप्रति संलग्न कर सुरक्षित कर ले ।

 इंस्टिट्यूट नोडल अधिकारी द्वारा सत्यापित हार्ड कॉपी को विद्यालय प्रमुख (प्रधानाचार्य /प्रबंधक) भी प्रमाणित करेंगे तथा प्रमाणित सूची एवं हार्ड कॉपी जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी कार्यालय/ जनपद नोडल अधिकारी के सम्मुख प्रस्तुत की जाएगी ।

इंस्टिट्यूट नोडल अधिकारी द्वारा ऑनलाइन आवेदनों को नवीन एवं नवीनीकरण श्रेणी की हार्ड कॉपी अलग-अलग करते हुए 5 वर्षों तक अपने विद्यालय में सुरक्षित रखेंगे तथा संख्या के प्रधानाचार्य/ प्रबंधक को इस्टीट्यूट नोडल अधिकारी की गतिविधियों के प्रभावी पर्यवेक्षण के लिए जिम्मेदार बनाया जाता है ।नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर एक्शन फ्रॉड डिटेक्शन सॉफ्टवेयर के माध्यम से पहचाने गए संदिग्ध आवेदनों को पुनः सत्यापन के लिए वापस किया जाएगा । 

हॉस्टलर के छात्र छात्राओं को हॉस्टल की सुविधा तभी प्रदान की जाए जब संस्थाओं में हॉस्टल की संपूर्ण व्यवस्था लागू हो । अर्थात इंस्टीट्यूट नोडल अधिकारी द्वारा हस्तलर छात्र-छात्राओं के आवेदन तभी अग्रसारित किए जाएं जब संस्था हस्तलर की श्रेणी में आती हो । अन्यथा ऐसे आवेदनों को निरस्त कर दें ।

छात्रों द्वारा किए गए ऑनलाइन आवेदनों को इस्टीट्यूट नोडल अधिकारी द्वारा संस्था के मूल अभिलेखों (जैसे एस0आर0 नंबर, मार्कशीट, जन्म तिथि, पता आय प्रमाण पत्र ,आधार कार्ड, खाता संख्या आदि ) से पूर्णतया मिलान करने के बाद ही स्तर-1 से अग्रसारित किया जाए, इसमें किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी ।

प्री-मैट्रिक, पोस्ट-मैट्रिक एवं मेरिट- कम -मींस छात्रवृत्ति योजना अंतर्गत एनएसपी पोर्टल पर ऑनलाइन किए जाने वाले छात्र-छात्राओं के आवेदन पत्रों को विद्यालय/ शिक्षण संस्थाओं द्वारा अपनी लॉगिन आईडी से अग्रसारित किए जाते हैं, पासवर्ड की सुरक्षा के दृष्टिगत अपना पासवर्ड नियमित अंतराल पर बदलना तथा ऑनलाइन आवेदन को अपनी उपस्थिति में ही अपनी लॉगिन से अग्रसारित करना सुनिश्चित करें ।

यहां पर भी अवगत कराना है कि अल्पसंख्यक विभाग द्वारा भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा संचालित अल्पसंख्यक वर्ग मुस्लिम, सिख, ईसाई, बौद्ध एवं जैन की छात्रवृतियों का क्रियान्वयन होता है ऐसी दशा में एकल छात्रवृत्ति योजना के तहत यह सुनिश्चित करें कि छात्र छात्रा का किसी एक भारत सरकार अथवा राज्य सरकार छात्रवृत्ति योजना में आवेदन ऑनलाइन किए जाने के दौरान त्रुटिवश दोनों योजनाओं में आवेदन ऑनलाइन हो जाता है तो ऐसी दशा में किसी एक योजना अंतर्गत छात्र /छात्रा का आवेदन अपने लागिन से निरस्त करते हुए एक छात्रवृत्ति हेतु आवेदन जांच उपरांत अग्रसारित करें, ताकि नियमावली के अनुसार किसी भी प्रकार छात्र /छात्रा को दोहरी छात्रवृत्ति का लाभ प्राप्त हो सके ।

छात्रवृत्ति योजना अंतर्गत एक अभिभावक के दो बच्चों को ही छात्रवृत्ति अनुमन्य है, यदि दो से अधिक छात्रों के छात्रवृत्ति आवेदन ऑनलाइन किए जाते हैं तो शिक्षण संस्था मदरसे से स्वयं जिम्मेदार होंगे तथा कुल छात्रवृत्ति अनियमितता का घोतक है यदि एक अभिभावक के 2 से अधिक बच्चों की छात्रवृत्ति प्राप्त होती है तो भविष्य में उनके विरुद्ध कार्रवाई अमल में लाई जाएगी ।

छात्र /छात्राओं के सीबीएस खाते ही संचालित हो  व उसे विधिवत संकलित रखा जाए तथा उनका आधार से लिंक कराया जाना अनिवार्य है ।

इस्टीट्यूट नोडल अधिकारी इस बात का भी ध्यान रखें कि संस्था द्वारा ऑनलाइन शिक्षा ग्रहण करने वाले ही छात्र-छात्राओं के आवेदन अग्रसारित किए जाएं ।

 अतः उक्त के क्रम में निर्देशित किया जाता है कि अपने अधीनस्थ शिक्षण संस्थाओं को अपने स्तर से निर्देशित करना सुनिश्चित करें कि भारत सरकार की छात्रवृत्ति ऑनलाइन आवेदनों को अपने विद्यालय /शिक्षण संस्थान अपनी लॉगिन आईडी से साबित करने से पूर्व उपरोक्त अनुसार आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करें, ताकि उक्त योजना का दुरुपयोग न हो, यदि कोई अनियमितता प्रकाश में आती है तो उसका संपूर्ण उत्तरदायित्व संबंधित विद्यालय/ शिक्षण संस्था का होगा ।

Popular posts
योगी की नही विद्युत वितरण खंड प्रथम में चल रही है सपा मानसिकता के रामसनेही की सरकार
चित्र
14 साल की नाबालिग का थाने में हुआ प्रसव:
चित्र
बंदूक के साथ फोटो खिचवाते समय दब गया ट्रिगर, महिला की मौत
चित्र
अगर आता है आपको भी बार-बार पेशाब, तो समझ लीजिए कि शरीर में पनप रही है ये बीमारियां
चित्र
आज हम बात करेंगे फूलन देवी के सहादत दिवस के अवसर पर बात करेंगे कि फुलवा से कैसे फूलन बनी फूलन देवी का विस्तृत परिचय
चित्र