एसडीएम,सीओ,थाना प्रभारी,ईओ ने निरीक्षण कर नाला निर्माण मे बाधा उत्पन्न करने वालों लोगों को मुकदमा दर्ज कर जेल भेजने की दी चेतावनी

 एसडीएम,सीओ,थाना प्रभारी,ईओ ने निरीक्षण कर नाला निर्माण मे बाधा उत्पन्न करने वालों लोगों को मुकदमा दर्ज कर जेल भेजने की दी चेतावनी             


                                                     


फतेहपुर।जहानाबाद नगर पंचायत ने जल निकासी से छुटकारा पाने के लिए सन् 2017 मे 1 करोड़ 40 लाख रुपये से 810 मीटर नाला निर्माण के लिए कार्यदायी सस्था यूपी जलनिगम इलाहाबाद को धन अवमुक्त किया था। जिस पर 810 मीटर के सापेक्ष 500 मीटर नाला बना कर कार्यदायी संस्था ने कार्य बंद कर दिया था। और रिवाइज इस्टीमेट के नाम पर   49 लाख रुपये अतिरिक्त मांगे थे। जिस पर क्षेत्रीय सभासद महेश कुमार चौरसिया ने कारागार राज्य मंत्री जयकुमार जैकी व जिलाधिकारी संजीव सिंह से शिकायत दर्ज कर जांच कराकर नाला पूर्ण कराने की मांग की थी। जिस पर कारागार राज्य मंत्री की पहल पर जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी के नेतृत्व में टीम गठित कर जांच करायी और कार्यदायी संस्था के विभागाध्यक्ष को सख्त चेतावनी देते हुए निर्देश दिया था कि नगर पंचायत ने जितना रुपये दिया था। उतना कार्य नही हुआ है लिहाजा कार्य पूरा कराये और गठित टीम जांच कर अतिरिक्त ब्यय हुए धन का भुगतान करायेगी एवं कार्य न शुरू करने पर विभाग के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर शासन को रिपोर्ट दी जायेगी। तब डीएम की घुड़की के बाद कार्यदायी संस्था ने धीमी गति से कार्य शुरू किया था। 2माह मे पूरा करने के सापेक्ष 3 माह से कार्य जारी था लेकिन डीएम संजीव सिंह का स्थानंतरण हो जाने पर कार्य बंद कर दिया था। जिसपर ईओ कुलवंत सिंह व क्षेत्रीय सभासद महेश कुमार चौरसिया की पुनःपहल पर कल से कार्य फिर शुरू होने से नाला पूर्ण होने की आस लोगों मे जगी है।ईओ की शिकायत पर एसडीएम प्रियंका सिंह, सीओ योगेंद्र मलिक,थाना प्रभारी संजय संधू,एस आई अर्जुन सिंह, संतोष सिंह, ईओ कुलवंत सिंह ने निरीक्षण कर नाला निर्माण मे बाधा उत्पन्न करने वाले को मुकदमा दर्ज कर जेल भेजने की सख्त चेतावनी दी।