इंटर व हाईस्कूल के विद्यार्थियों को पास कराने में व्यवसाय शिक्षा होगी मददगार

 इंटर व हाईस्कूल के विद्यार्थियों को पास कराने में व्यवसाय शिक्षा होगी मददगार



न्यूज़।व्यावसायिक शिक्षा अब यूपी बोर्ड के इंटर व हाईस्कूल के विद्यार्थियों को पास कराने में भी मददगार होगी। विद्यार्थी यदि किसी विषय विशेष में फेल हो जाते हैं तो उस विषय का परिणाम व्यावसायिक शिक्षा के परिणाम से परिवर्तित कर दिया जाएगा। नेशनल स्किल्स क्वालीफिकेशन फ्रेमवर्क द्वारा तय मानकों के आधार पर माध्यमिक शिक्षा परिषद इसके लिए पाठ्य सामग्री व प्रयोगात्मक पाठ्यक्रम तैयार करेगा। 50 फीसद अंक सैद्धांतिक व 50 प्रतिशत अंक प्रयोगात्मक कार्य के होंगे। यह बदलाव नई शिक्षा नीति के तहत किया जाएगा।माध्यमिक विद्यालयों में पढ़ रहे विद्यार्थियों को व्यावसायिक शिक्षा से जोड़ने के लिए वर्ष 2021-22 में सर्वे किया जाएगा। व्यावसायिक शिक्षा के ट्रेड में सेवा, विनिर्माण और कृषि सेक्टर पर फोकस किया जाएगा। न्यूनतम चार व्यावसायिक ट्रेड का विकल्प दिया जाएगा और इसमें ट्रेड वन डिस्टिक्ट वन प्रोडक्ट (ओडीओपी) को भी शामिल किया जाएगा। कक्षा नौ व कक्षा 10 में दो व्यावसायिक ट्रेड और कक्षा 11 व कक्षा 12 में एक व्यावसायिक ट्रेड लिए जाने की अनिवार्यता होगी।