मास्क से पैदा होने वाली नमी करती है खतरे को कम

 मास्क से पैदा होने वाली नमी करती है खतरे को कम



न्यूज़।एक नए अध्ययन के मुताबिक नाक की बर्फी स्मार्ट लोगों को कोरोनावायरस से बचाता है बल्कि मास्क पहनने से बनने वाली मामी सांस की नली को हाइड्रेट भी करती है और सिस्टम को फायदा पहुंचाती है। यह शोध बायोफिजिकल अनल में प्रकाशित हुआ है। अमेरिका स्थित नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ डायबिटीज एंड डाइजेस्टिव एंड किडनी डिजीज से ताल्लुक रखने वाले और शोध के प्रमुख लेखक एड्रियाना बैक्स ने कहा,' हमने पाया कि फेस मास्क सांस लेने वाली हवा में नमी को बढ़ाता है। इससे इस बात की पुष्टि होती है कि अगर सांस लेने वाले रास्ते में नमी बढ़ती है तो कोरोनावायरस का खतरा कम हो जाता है।' बैक्स ने कहा कि नवमी का उच्च स्तर फ्लू की गंभीरता को कम करता है और यही नियम कोर्णाक की गंभीरता पर भी लागू हो सकता है। विज्ञानियों ने कहा कि नवमी का उच्च स्तर म्यूकोसिकल क्लीयरेंस को बढ़ावा देकर फेफड़ों में वायरस को फैलने को रोकता है। बता दें कि एमसीसी ना केवल फेफड़े को बलगम से बचाता है बल्कि ब्हानिकारक कणों से भी इस की रक्षा करता है।

Popular posts
क्षेत्रीय भाजपा विधायक करन सिंह पटेल का प्रतिनिधि विपिन पटेल भाजपा की छवि कर रहा है धूमिल।
इमेज
उत्तर प्रदेश में होने जा रहे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के आरक्षण सूची जारी की जा रही है फाइनल सूची 15 मार्च को
इमेज
जिला मुख्यालय पर कल जारी होगी पंचायत चुनावों के आरक्षित/अनारक्षित सीटों की सूची
इमेज
और जब राज्य मंत्री ने पेट्रोल पंप में बाइक में भरा तेल
इमेज
घर से चूहे, छिपकली और मक्खी भगाने के घरेलू नुस्खे, एक बार जरूर ट्राई करें
इमेज