श्रावण मास के पहले सोमवार को मंदिरों व गंगा घाट में लगा भक्तों का ताता

 श्रावण मास के पहले सोमवार को मंदिरों व गंगा घाट में लगा भक्तों का ताता



फतेहपुर।सावन के पहले सोमवार को जिले भर के समस्त गंगा घाट भृगुधाम भिटौरा, अशनी, आदमपुर, खुशरूपुर, चंद्रिकन घाट व जिले के तमाम गंगा घाटों व शिव मंदिरों खासकर तांबेश्वर, जागेश्वर, थवईश्वर धाम, बड़े शिवाला आदि में भक्तों की लगी रही भीड़।  मौजूद भारी पुलिस बल कोरोना वायरस गाइडलाइन का कराते रहे पालन माइक से भी होता रहा कोरोना गाइडलाइन पालन करने का ऐलान। श्रद्धा के आगे तीसरी लहर हुई गायब पुलिस को करनी पडी भारी  मशक्कत। भारी संख्या में महिला कांस्टेबल भी रही मौजूद।

सावन के पहले सोमवार को भगवान भोलेनाथ के मंदिर में इतनी भीड़ होगी  यह किसी को अंदाजा नहीं था।  सुबह से आज ललौली थाने मैं तैनात सुरेंद्र पाल सिंह यादव अपने हमराही सिपाहियों के साथ मंदिर पर मौजूद रहे और  कोरोना गाइडलाइन का पालन करवाते नजर आए।  उन्होंने सभी भक्तों को मास्क लगाकर ही दर्शन करने का ऐलान माइक लगाकर करवाते रहें। मंदिर प्रांगण में महिला कांस्टेबल भी मौजूद रही  भगवान भोलेनाथ के दर्शन करने के लिए महिला कांस्टेबल महिलाओं को बारी-बारी से अंदर जाने देती थी तो वही मौजूद पुरुषों की लाइन को भी बारी-बारी से अंदर दर्शन करने के लिए जाने दिया जाता था। कुछ भी हो आज भगवान भोलेनाथ के दर्शन करने वाले भक्तों के आगे तीसरी लहर पूरी तरह से गायब नजर आई। भक्त भोलेनाथ का दर्शन करने के बाद भोले नाथ,  बम बम भोले के जय कारे भी लगाते रहे भोले के जयकारों से गूंजा मंदिर प्रांगण। जिले भर के तमाम मंदिरों व गंगा घाटों में पुलिस प्रशासन की मुस्तैदी से किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं हुई किंतु प्रशासन के बार-बार कहने के बावजूद भी लोग बिना मास्क व सोशल डिस्टेंस के गंगा घाट में व मंदिरों में दिखाई दिए।