दिल्ली में एक सितंबर से 9वीं व 12वीं क्लास के लिए खुलेंगे स्कूल, डीडीएमए की बैठक में हुआ फैसला

 दिल्ली में एक सितंबर से 9वीं व 12वीं क्लास के लिए खुलेंगे स्कूल, डीडीएमए की बैठक में हुआ फैसला



दिल्ली में अब चरणबद्ध तरीके से स्कूल खुलेंगे। सबसे पहले कक्षा 9वीं से 12वीं की कक्षाएं एक सितंबर से शुरू होंगी। 


दूसरे चरण में छठी से आठवीं तक की कक्षाएं आठ सितंबर से शुरू होंगी 


दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को ये फैसला लिया


दिल्ली में चरणबद्ध तरीके से एक सितंबर से स्कूल खोले जाएंगे


न्यूज़।दिल्ली में अब एक सितंबर से चरणबद्ध तरीके से स्कूल खुलेंगे। सबसे पहले कक्षा 9वीं से 12वीं की कक्षाएं एक सितंबर से शुरू होंगी। उसके बाद दूसरे चरण में छठी से आठवीं तक की कक्षाएं आठ सितंबर से शुरू होंगी। राजधानी में पहली से लेकर 12वीं तक स्कूलों को फिर से खोलने को लेकर दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (Delhi Disaster Management Authority) की बैठक में शुक्रवार को इसे खोलने का फैसला लिया गया। इसी को लेकर डीडीएमए की एक अहम बैठक बुलाई गई थी। उधर शिक्षा मंत्री मनीष सिसौदिया ने कहा कि दिल्ली में सभी सावधानियों के साथ चरणबद्ध तरीके से स्कूल, कॉलेज, कोचिंग गतिविधियों को फिर से शुरू करने का निर्णय लिया गया है। एक सितंबर से, सभी स्कूलों में कक्षा 9-12 के लिए कक्षाएं, उनकी कोचिंग कक्षाओं के साथ-साथ सभी कॉलेजों / विश्वविद्यालयों को फिर से शुरू करने की अनुमति होगी।

उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी, स्कूल, कालेज जो भी खोले जाएंगे, वहां शारीरिक दूरी का पालन किया जाएगा। अभिभावकों की मर्जी के बगैर कोई स्कूल जबरदस्ती बच्चों पर दबाव नहीं बना सकेगा। कई राज्य ऐसे जिन्होंने छठी से 12वीं तक स्कूल खोल दिए है, लगभग सभी जगह स्कूल खुल चुके हैं। जब हमने स्कूल खोलने की बात कही थी तब हजारों अभिभावकों ने हमें प्रतिक्रिया दी थी कि स्कूल खोले जाए। दिल्ली के जितने भी स्कूल है उनमें ज्यादातर टीचर को वैक्सीन का फर्स्ट डोज दिया जा चुका है। स्कूलों में आनलाइन और आफलाइन दोनों क्लासेज एक साथ चलेंगी। बिना अभिभावकों की मर्जी के किसी भी बच्चे को स्कूल जाने के लिए प्रेशराइज नहीं किया जाएगा।

बता दें कि दिल्ली में लंबे समय से स्कूल बंद चल रहे हैं। कोरोना के मामलों में कमी आने पर कुछ दिन पहले ही 10वीं, 11वीं और 12वीं के छात्रों को दाखिला से संबंधित कार्यों, काउंसलिंग, मार्गदर्शन और बोर्ड परीक्षाओं से जुड़े प्रैक्टिकल कार्य के लिए स्कूल आने की मंजूरी दी गई थी। दूसरे राज्यों की तर्ज पर स्कूलों को फिर से खोलने की मांग उठने पर उपराज्यपाल ने गत छह अगस्त को डीडीएमए की बैठक में अधिकारियों को दिल्ली में स्कूलों को फिर से खोलने के लिए विस्तृत योजना तैयार करने वाली एक विशेषज्ञ समिति गठित करने का निर्देश दिया था।

गौरतलब है कि कोविड-19 के कम होते मामलों के बीच दिल्ली सरकार की विशेषज्ञ समिति ने अपनी रिपोर्ट में दिल्ली के सभी स्कूलों को चरणबद्ध तरीके से फिर से खोलने की सिफारिश पहले से की थी। समिति ने अपनी सिफारिशों में सरकार से पहले कक्षा 9 से 12वीं तक के स्कूलों को खोलने के लिए कहा था, उसी पर इसे शुरू किया गया है। इसके बाद मिडिल स्कूलों और फिर आखिर में प्राथमिक विद्यालयों को खोले जाने के लिए कहा है। इस पर डीडीएमए फैसला ले लिया है।

Popular posts
पाल समुदायिक उत्थान समिति एवं राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग मोर्चा के तत्वाधान में सम्मेलन संपन्न
चित्र
चार माह बीतने के बाद भी दलित महिला प्रधान को नहीं मिला चार्ज
चित्र
मुंबई में धमाल मचा रहे हैं फतेहपुर के शिवार्थ श्रीवास्तव
चित्र
उत्तर प्रदेश के युवाओं के लिए रोजगार का सुनहरा मौका, चार अक्टूबर को हर जिले में लगेगा अप्रेंटिसशिप मेला
चित्र
प्यार दे कर जो हमें विदा हुए संसार से,
चित्र