नई पीढ़ी को धर्मग्रंथो का वैज्ञानिक पक्ष बताना है जरुरी

 नई पीढ़ी को धर्मग्रंथो का वैज्ञानिक पक्ष बताना है जरुरी



शिवराजपुर मे चल रही श्रीमदभागवत कथा का छठा दिवस


गिरिराज शुक्ला


बिंदकी फतेहपुर।मलवा विकास खंड के छोटी काशी के नाम से विख्यात शिवराजपुर के बम अखाड़ा हनुमान मंदिर में चल रही श्रीमद् भागवत कथा के छठवें दिवस कथा व्यास गोकर्ण जी महाराज ने कंस वध,रासलीला,गोवर्धन लीला की कथा विस्तार से सुनाई। उन्होंने यहां पर युवाओं को संदेश देते हुए कहा कि नशा और मोबाइल से दूरी बनाकर ही समाज में क्रांति ला सकते हैं।संस्कृति का समापन नशा और मोबाइल जैसी विकृतिया ही कर कर रही है।माता पिता को भी अपने बच्चों को नशा और मोबाइल से दूरी बनाने के लिए हमेशा प्रेरित करना चाहिए।उन्होंने कहा भौतिकवाद के कोलाहल में हमारे पवित्र धर्मग्रंथों का गुंजन कहीं गुम हो गया है।श्रद्धा की जगह तर्क का आसरा ग्रहण करने वाली नई पीढ़ी को इन धर्म ग्रंथों का वैज्ञानिक पक्ष बताना बहुत जरूरी हो गया है।इससे न केवल वे अपनी गौरवशाली परंपराओं से जुड़ेंगे,बल्कि अपने जीवन में क्रांतिकारी सफलता भी अर्जित करेंगे।हनुमान मंदिर में 14 सितंबर को विशाल भंडारा व रात्रि में जवाबी कीर्तन का भी आयोजन किया गया है।कथा समापन के बाद आरती व प्रसाद वितरित किया गया।प्रमुख रूप से प्रवीण सिंह,दीपक त्रिपाठी,

आलोक गौड़,लाला सिंह,सुनील शुक्ला,विवेक द्विवेदी,अवधेश त्रिपाठी,धनंजय द्विवेदी,वैभव गुप्ता,ब्रजराज,

शालिकराम दीक्षित,राजकिशोर द्विवेदी,विपिन शुक्ला,प्रदीप तिवारी,अभिषेक द्विवेदी,धर्मेन्द्र सिंह,नरेश तिवारी,अजय तिवारी,बच्चन द्विवेदी रहे।

Popular posts
जिले में महिलाओं के हत्या युक्त अज्ञात शव मिलने का नहीं थम रहा सिलसिला 3 दिन पहले मिली थी हत्या युक्त महिला का शव अभी तक नहीं हुई कोई शिनाख्त
चित्र
योगी सरकार ने छात्रवृत्ति का बदला नियम, जानिए पैसे लेने के लिए करना होगा क्या नया काम
चित्र
प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी युगल हुए एक दूजे के
चित्र
15 हजार से कमाई कम तो मिलेगा बीमा और आयुष्मान कार्ड का लाभ, करना होगा यह काम
चित्र
दिल्ली के निर्भया कांड में आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने वाली देश की चर्चित अधिवक्ता सीमा समृद्धि लड़े गीं कानपुर की निर्भया का केस
चित्र