फसल बर्बाद होने पर किसान ने फांसी लगाकर दी जान

 फसल बर्बाद होने पर किसान ने फांसी लगाकर दी जान


फतेहपुर। लगातार तीन दिन हुई बारिश के कारण खेत बर्बाद होने पर 55 वर्षीय किसान ने खेत में ही टीनशेड के नीचे फांसी लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। जानकारी के अनुसार औंग कस्बा निवासी स्व. ललई का पुत्र सुरेश पटेल का एक बीघा खेत है। लगातार तीन दिन से बारिश के चलते फसल बर्बाद होने पर दुखी हो गया और उसने शुक्रवार शाम खेत में ही बने टीनशेड के नीचे धन्नी पर रस्सी का फंदा डाल फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर विच्छेदन गृह भेज दिया। पोस्टमार्टम हाउस में मृतक के परिजनों ने बताया कि एक बीघा खेती थी। जिससे वह अपने परिवार का पालन-पोषण करता था। यही नहीं अपने पुत्र व पुत्री की फीस का पैसा देने के लिए इधर-उधर भटक रहा था। बारिश से जब उसकी फसल बर्बाद हो गई तो वह टूट गया और उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।


Popular posts
बुंदेलखंड जन अधिकार पार्टी ने जिलाध्यक्ष हनुमान प्रसाद दास राजपूत को विधानसभा बांदा सदर से प्रत्याशी किया घोषित,
चित्र
उत्तर प्रदेश फ्री स्मार्ट फोन और टैबलेट योजना 2021: इंतजार खत्म, योगी सरकार इसी माह से करेगी वितरण
चित्र
राजस्व वसूली एवं सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न करने वाले के विरुद्ध दर्ज हुई एफ आई आर
चित्र
दूल्हे के शराब पीने से दुल्हन ने तोड़ी शादी, कहा-शराबी के साथ पूरी ज़िंदगी नहीं गुजार सकती
चित्र
कान्हा गौशाला मलाका में प्रथम नेत्र चिकित्सा शिविर का हुआ आयोजन
चित्र