फतेहपुर में पितृ अमावस्या के दिन गंगा स्नान करने जा रहा श्रद्धालुओं से भरा विक्रम पलटा एक महिला की मौत कई घायल।

 फतेहपुर में पितृ अमावस्या के दिन गंगा स्नान करने जा रहा श्रद्धालुओं से भरा विक्रम पलटा एक महिला की मौत कई घायल।


 

फतेहपुर में बुधवार को पितृ अमावस्या के मौक़े पर गंगा स्नान करने जा रहा श्रद्धालुओं से भरा एक विक्रम अनियंत्रित होकर रोड में पलट गया.जिसके चलते एक महिला सवार की मृत्यु हो गई औऱ चार लोग घायल हो गए हैं। फतेहपुर में पितृ अमावस्या के दिन गंगा स्नान करने जा रहा श्रद्धालुओं से भरा विक्रम पलटा एक महिला की मौत कई घायल मृतका रीता त्रिवेदी फतेहपुर में बुधवार को एक दर्दनाक सड़क हादसे में एक महिला की मौत हो गई है.औऱ चार लोग बुरी तरह से घायल हो गए हैं.पुलिस ने घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है.शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

मामला गाजीपुर थाना क्षेत्र का है.जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के खेसहन गाँव का एक विक्रम श्रद्धालुओं को लेकर पितृ विसर्जन अमावस्या के मौक़े पर गंगा स्नान कराने जा रहा था.बीच रास्ते में चुरियानी गांव की रीता त्रिवेदी (45) पत्नी रमाशंकर त्रिवेदी भी गंगा स्नान करने के लिए विक्रम में सवार हो गई.उनके साथ उनका 7 वर्षीय पौत्र भी था।

चुरयानी से कुछ दूर आगे ही लक्ष्मणपुर के पास विक्रम ओवरटेक करने के चक्कर में अनियंत्रित होकर पलट गया.विक्रम पलटने से मौक़े चीख़ पुकार मच गई.सूचना पर गाजीपुर थाना अध्यक्ष नीरज यादव मय फ़ोर्से मौक़े पर पहुँचे औऱ घायलों को जिला अस्पताल भेजवाया.जहां रीता त्रिवेदी की मौत हो गई है.विक्रम सवार चार औऱ लोग गम्भीर रूप से घायल हुए हैं.जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.बताया जा रहा है सभी घायल खेसहन गांव के रहने वाले हैं. मृतका रीता के साथ विक्रम में रहे 7 वर्षीय पौत्र को भी चोटें आई हैं।

थाना अध्यक्ष नीरज यादव ने बताया कि घायलों को जिला अस्पताल भेज दिया गया है.रीता त्रिवेदी नाम की महिला की हादसे में मौत हो गई है.चार लोग घायल हैं।


माँ की मौत से बेसुध हुई बेटी..


हादसे में जान गंवाने वाली रीता त्रिवेदी के पति रमाशंकर पोस्ट आफ़िस में कार्यरत हैं.चार बेटे औऱ दो बेटियां हैं.एक बेटे की कुछ सालों पहले मौत हो गई थी.बड़े बेटे और बड़ी बेटी की शादी हो चुकी है.हादसे की सूचना पर परिवार में कोहराम मच गया है.छोटी बेटी रुची का रो रोकर बुरा हाल है.मां की मौत से उसे गहरा सदमा लगा है.परिवारीजन उसे ढांढ़स बंधाते हुए सांत्वना दे रहें हैं.