खेत में मिले नरमुण्ड का पुलिस ने किया सनसनी खेज खुलासा, विगत 9 माह पूर्व खेत में मिला था नरमुंड

 खेत में मिले नरमुण्ड का पुलिस ने किया सनसनी खेज खुलासा, विगत 9 माह पूर्व खेत में मिला था नरमुंड



संवाददाता बांदा।जनपद की देहात कोतवाली पुलिस ने एक सनसनीखेज खुलासा किया है। जिसमें अभियुक्तों ने 36 वर्ष पूर्व में हुयी बड़े पिता कि हत्या का लिया बदला।पुलिस द्वारा 02 अभियुक्तों को किया गया गिरफ्तार। पुलिस अधीक्षक बांदा के कुशल निर्देशन में अपराध तथा अपराधियों पर अंकुश लगाये जाने तथा घटित घटनाओं का अनावरण करने हेतु दिये गये दिशा निर्देशों के क्रम में दिनांक 26.02.2021 को थाना कोतवाली देहात पर पंजीकृत हुयी गुमशुदगी तथा दिनांक 07.03.2021 को खेत में मिले नरमुण्ड के सनसनी खेज घटना का अनावरण करते हुए 02 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। गौरतलब है कि।थाना कोतवाली देहात क्षेत्रान्तर्गत ग्राम जमालपुर निवासी रामभजन कुशवाहा पुत्र स्व० गयाप्रसाद द्वारा दिनांक 26.02.2021 को लिखित प्रार्थना पत्र दिया था कि मेरे पिता गयाप्रसाद उम्र लगभग 55।वर्ष जो 24.02.2021 से लापता हैं बहुत खोजबीन की रिस्तेदारियों में भी पता किया किन्तु वह नही मिले, वादी की सूचना पर पुलिस द्वारा गुमशुदगी दर्ज की गयी तथा लापता व्यक्ति की तलाश में लगे रहे। दिनांक 07.03.2021 को गांव के बाहर बुद्ध सिंह पुत्र भूप सिंह के खेत के पास सड़क के किनारे एक नरमुण्ड मिला था जिसका डीएनए परीक्षण रिपोर्ट प्राप्त होने के उपरान्त नरमुण्ड की पहचान गयाप्रसाद।के रूप में की गयी थी, जिसपर अग्रिम कार्यवाही करते हुए 26.10.2021 को  अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत किया गया था। जिसकी विवेचना के कम में प्रकाश में आयेअभियुक्त राजेश यादव पुत्र रामकिशोर यादव उम्र करीब 35 वर्ष ,शिवाकान्त उर्फ रमाकांत पुत्र रामकिशोर यादव उम्र करीब 20 वर्ष निवासी ग्राम जमालपुर थाना कोतवाली देहात जनपद बांदा को हिरासत में लेकर कड़ी पूछतांछ करने पर बताया कि दिनांक 24.02.2021 को रात लगभग 8:30 बजे गांव।में सड़क किनारे शराब पी रहे गयाप्रसाद को अपनी मोटरसाइकिल में बैठाकर नहर के किनारे निर्माणाधीन एक्सप्रेसवे केन नदी ले गये थे तथा गया प्रसाद के सर पर कुल्हाड़ी से सर पर वार किया

था जिससे वह अचेत हो गया था सूनसान जगह ले जाकर उसकी गर्दन काट लिये थे दो सीमेन्ट की।खाली बोरियों में बालू भरकर उसके धड़ को बांध दिया था तथा नदी में फेंक दिया एवं सर को अपनी टी-शर्ट में लपेटकर अपने खेत में गाड दिया और टी-शर्ट को खेत में जला दिया था। पुलिस द्वारा अपराध करने की वजह पूछे जाने पर बताया कि मेरे बड़े पिता की हत्या वर्ष 1985 में गयाप्रसाद एवं उसके भाई स्वामीदीन द्वारा कर दी गयी थी तथा दोष मुक्त होकर घर आ गये थे जब हम लोग बड़े हुए तो गयाप्रसाद शराब पीकर अक्सर ताने मारता था तभी हम दोनो भाईयों द्वारा निर्णय लिया गया था। कि मौका मिलते ही गयाप्रसाद से अपने ताऊ की मौत का बदला लेगें और दिनांक 24.02.2021 को हत्या को अंजाम दिया गया था। पुलिस द्वारा अभियुक्तों की निशादेही पर धड़ की तलाश की गयी किन्तु बरामद नही हो सका बरामदगी के प्रयास जारी है। इस प्रकार थाना कोतवाली देहात पुलिस द्वारा अपर पुलिस अधीक्षक बांदा लक्ष्मी निवास मिश्र के निर्देशन तथा क्षेत्राधिकारी राकेश कुमार सिंह के कुशल पर्यवेक्षण एवं प्रभारी निरीक्षक कोतवाली देहात  बृजेशचन्द्र यादव के नेतृत्व में हुयी इस सनसनी खेज घटना का सफल अनावरण किया गया।गिरफ्तार करने वाली टीम में  बृजेशचन्द्र यादव प्रभारी निरीक्षण थाना कोतवाली देहात मुख्य आरक्षी कुलदीप पटैरिया आरक्षी दिनेश निरंजन मौजूद रहे।