जनप्रतिनिधियों के आश्वासन से सैकड़ो ग्रामीण नाराज, समस्या बरकरार

 जनप्रतिनिधियों के आश्वासन से सैकड़ो ग्रामीण नाराज, समस्या बरकरार



परेशान ग्रामीणों ने आवाज बुलंद कर लकड़ी का पुल बनाने को ठाना


सपा नेत्री ने ग्रामीणों की समस्या हल कराने का दिया आश्वासन


बिंदकी फतेहपुर।सैकड़ो गावो को जोड़ने वाला खूंटा का पुल पिछले चुनाव में जनप्रतिनिधियों ने ग्रामीणों को जीत पर बनवाये जाने का आश्वासन दिया था। वर्षो बीत जाने के बाद भी आज तक पुल का निर्माण अभी भी  शुरू नही हो सका। जिससे ग्रामीणों में नाराजगी का माहौल व्याप्त है। इसी को लेलर सपा नेत्री भी मौके पर पहुची और ग्रामीणों को आश्वासन दिया है।विकासखण्ड खजुहा के खूंटा गाव से गुजरी रिन्द नदी सैकड़ो गावो को जोड़ती है। नदी में पुल ना होने से इस पार से उस पर जाने के लिए ग्रामीणों को लगभग 15 किलोमीटर का लंबा रास्ता तय करना पड़ता है। पिछले चुनाव के वक्त जनप्रतिनिधियों ने पुल बनवाये जाने का आश्वासन दिया था। वर्षो बीत जाने के बाद भी पुल का निर्माण नही शूरु हो सका है। जिसको लेकर रविवार को ग्रामीणों में एक बार फिर गुस्सा का फुट पड़ा और जमकर नाराजगी जताई। ग्रामीणों ने कहा यदि पुल का निर्माण नही हुआ तो वह लकड़ी का पुल बनाएंगे और मतदान के वोट का बहिष्कार करेंगे। वही मौके पर पहुची सपा नेत्री अन्नू मिश्रा ने कहा कि पुल न बनने से गाव के बच्चे डूबते है, लोगो को लंबा रास्ता तय करना पड़ता है। कई बार गंभीर समस्या को उठाया गया लेकिन अब तक समस्या बरकरार है। उन्होंने ग्रामीणों को पुल के जल्द निर्माण कराए जाने का आश्वासन दिया है। इस मौके पर राजा मियां जिला पंचायत सदस्य प्रतिनिधि आफताब आलम के अलावा कलाम शेख प्रधान पप्पू प्रधान गढ़ी अमित दिवाकर प्रधान कंसा खेड़ा जय नारायण प्रधान महुआ खेड़ा हफिज नसीब शुक्ला प्रधान नेता अलीम खान सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।