पूर्वजों द्वारा स्थापित शिव मंदिर पर अनाधिकृत रूप से दबंगों द्वारा किए गए कब्जे से परेशान मंदिर के पुजारी

 पूर्वजों द्वारा स्थापित शिव मंदिर पर अनाधिकृत रूप से दबंगों द्वारा किए गए कब्जे से परेशान मंदिर के पुजारी



फतेहपुर।बुजुर्गों द्वारा स्थापित श्री मोटे महादेव बाबा मंदिर स्थित ग्राम अशोकपुर में गांव के ही अरबपति बाहुबली शिव प्रकाश शुक्ला द्वारा अवैध तरीके से कब्जा कर लिया गया जबकि महंत अमर दास महत्यागी ने भिक्षा मांगकर के दो बरामदे का निर्माण करवाया व एक अलमारी बनवाई थी और श्री मोटे महादेव मंदिर में चारों तरफ काले पत्थर की मूर्तियां महाराजा जयपुर स्टेट के राजपुरोहित स्वर्गीय जोरावत प्रसाद तिवारी के द्वारा मूर्तियों के प्राण प्रतिष्ठा करवाई गई थी तब श्री मोटे महादेव बाबा मंदिर का जीर्णोद्धार भाजपा के पूर्व सांसद डॉ अशोक पटेल द्वारा करवाया गया था जिसमें शिव प्रकाश शुक्ला ने मूर्तियों को अपने गुंडों के साथ मूर्तियों को ले गए उसी जगह अपनी मूर्तियां स्थापित करा करके अपने वंश के नाम का नेम प्लेट लगवा दिया अलमारी व कीमती सामान ले गए और अलमारी को नष्ट करा दिया नंदी बाबा की विशाल मूर्ति के अंगों को तोड़ कर के अपने कमरे का निर्माण करा लिया आसपास देवी देवताओं को गायब करके अपने चबूतरे का निर्माण करवाया 

इसी प्रकार राजू शुक्ला ने दूसरे गेट का ताला तोड़कर गुप्त दान पेटी का 5 साल का अर्चित धन निकाल लिया और पुजारी बन बैठा स्वर्गीय राजा विश्वनाथ सिंह स्टेट असोथर ने 5 बीघा जमीन चंद्रसेन माली के बाबा जी को दिए थे पूजा आरती व सफाई करने के लिए जो आज भी जमीन श्री मोटे महादेव बाबा जी के नाम से जानी जाती है जिसमें महान अमरदास महत्यागी रामायण वाह भागवत करवाते थे परंतु उपरोक्त दबंगों द्वारा अवैधानिक तरीके से जबरन श्री मोटे महादेव मंदिर असोत्र में कब्जा कर लेने से अब जब संत अमरदास महत्यागी  मंदिर जाते हैं तो उपरोक्त दबंग जो मंदिर में कब्जा कर लिए वह उनके घर की औरतें गाली गलौज करती हैं जब सुंदरकांड का पाठ होने लगता है तब बत्ती बंद कर देती हैं और गाली गलौज करके अपमानित करने भगाने का प्रयास करती हैं।

प्रार्थी जिला अधिकारी अपूर्वा दुबे को प्रार्थना पत्र देते हुए मामले की निष्पक्ष बोर हुआ तथाकथित तथ्यों के आधार पर सही जांच करवा कर उक्त श्री मोटे महादेव बाबा मंदिर असोत्र पर दबंगों द्वारा अवैध कब्जे से मुक्त करा कर प्रार्थी को उक्त मंदिर में यथावत धार्मिक अनुष्ठान पूजा पाठ रामायण भागवत व सुंदरकांड आदि पाठ करने की अनुमति दी जाए एवं उपरोक्त दबंगों के विरुद्ध सख्त से सख्त कानूनी कार्यवाही कर प्रार्थी को न्याय दिया जाए। ताकि श्री मोटे महादेव बाबा मंदिर में पुणे पूजा पाठ रामायण भागवत व सुंदरकांड आदि पाठ कराई जाएं।