माघ मेला को लेकर 15 तक रहेगा रूट डायवर्जन, नो इंट्री वाले वाहनों के पास पर भी लागू होगा नियम

 माघ मेला को लेकर 15 तक रहेगा रूट डायवर्जन, नो इंट्री वाले वाहनों के पास पर भी लागू होगा नियम



न्यूज। 14 जनवरी को मकर संक्रांति का पावन त्योहार मनाने जा रहा है। इस दिन गंगा में आस्था की डुबकी लगाने की पुरानी परंपरा है। ऐसे में लोग देश के कोने-कोने से गंगा में डुबकी लगाने के लिए पहुंचते हैं। गंगा से लगी तमाम जगहों की तरह प्रयागराज में भी इसको लेकर तैयारियां पूरी हैं। ऐसे में माघ मेला स्नान पर्व को देखते हुए पुलिस अधीक्षक यातायात ने शहर में रूट डायवर्जन लागू कर दिया है। यह रूट डायवर्जन 13 जनवरी 2022 से 15 जनवरी 2022 तक लागू रहेगा। भारी व कमर्शियल वाहनों का अंतर्जनपदीय डायवर्जन 13 जनवरी से लागू रहेगा। यह डायवर्जन 13 की रात एक बजे से प्रभावी रहेगी। इसके अलावा जनपदीय नो इंट्री प्वाइंट्स से कामर्शियल वाहनों के शहर में प्रवेश पर राेक रहेगा। यह रोक 15 जनवरी तक लागू रहेगी।


ये हैं नो इंट्री प्वाइंट्स


पुलिस चौकी बम्हरौली, सहसों चौराहा, हबूसा मोड़, सोरांव बाई पास, नवाबगंज बाईपास, नो इंट्री प्वाइंट फाफामऊ, टीपी नगर तिराहा, रामपुर चौराहा, घूरपुर थाना गेट पर वाहन खड़े किए जाएंगे।


ऐसे लागू हाेगा नो एंट्री


रीवां रोड की तरफ से प्रयागराज आने वाले भारी व कॉमर्शियल वाहन-ट्रकों को थाना घूरपुर गौहनहया से रोका जाएगा।

मिर्जापुर मार्ग की तरफ से प्रयागराज की ओर से भारी कॉमर्शियल वाहन ट्रकों को रामपुर तिराहा थाना चौकी क्षेत्र के पास रोका जाएगा।

वाराणसी मार्ग की तरफ से जनपद प्रयागराज में आने वाले भारी कॉमर्शियल वाहनों को हबूसा तिराहा के पास रोका जाएगा।

जौनपुर मार्ग से जनपद प्रयागराज आने वाले भारी कमर्शियल वाहनों व ट्रकों को बाईपास के पास रोका जाएगा।

प्रतापगढ़ की तरफ से आने वाले भारी कॉमर्शियल वाहनों व ट्रकों को नवाबगंज के पास सोरांव में रोका जाएगा।

लखनऊ मार्ग की तरफ से प्रयागराज आने वाले वाहनों को भारी ट्रकों व कामर्शियल वाहनों को नवाबगंज के पास रोका जाएगा।

जंक्शन साइड से तीन दिन बंद रहेगा आवागमन

सीपीआरओ डॉ. शिवम शर्मा ने बताया कि प्रयागराज जंक्शन के सिविल लाइंस साइड से यात्रियों का अगले तीन दिन प्रवेश बंद रहेगा। माघ मेले के पहले स्नान पर्व मकर संक्रांति को देखते हुए रेलवे प्रशासन ने गुरुवार की दोपहर12 बजे से 15 जनवरी की रात 12 बजे तक सिविल लाइंस साइड से नो इंट्री लगाई है। हालांकि ट्रेनों से उतरने वाले यात्रियों को बाहर जरूर आने दिया जाएगा। मकर संक्रांति के बाद पौष पूर्णिमा, मौनी अमावस्या, बसंत पंचमी, माघी पूर्णिमा और महाशिवरात्रि पर भी यही व्यवस्था रहेगी। मंडल के पीआरओ अमित सिंह ने बताया कि पहले स्नान पर्व पर यह व्यवस्था बृहस्पतिवार 13 जनवरी से लागू हो रही है। इस दौरान सिविल लाइंस साइड से यात्रियों को इंट्री नहीं दी जाएगी।

Popular posts
सदर सीट से प्रमोद द्विवेदी को चुनाव लड़ा सकती हैं भाजपा
चित्र
केशव मौर्या के भाजपा से प्रत्यासी घोषित होते ही समर्थकों ने दागे पटाखे,बांटी मिठाई
चित्र
मकरस्क्रान्ति त्यौहार के शुभ अवसर पर किशनपुर में लगा ऐतिहासिक मेला
चित्र
दारा सिंह चौहान के इस्तीफे से क्या पड़ सकता है सियासत पर बड़ा फर्क
चित्र
कोर्रा कनक किशोरी हत्याकांड में ललौली पुलिस ने किया खुलासा सगा भाई ही निकला हत्यारा।
चित्र