जनपद के ईमानदार पुलिस अधीक्षक के दामन पर बदनुमा दाग लगा रहा है थाना अध्यक्ष गाजीपुर

 जनपद के ईमानदार पुलिस अधीक्षक के दामन पर बदनुमा दाग लगा रहा है थाना अध्यक्ष गाजीपुर



10 दिन बीत जाने के बाद भी वलीपुर गांव में मिली अज्ञात युवती की हत्या युक्त लाश की घटना का आज तक नहीं हो सका खुलासा


वलीपुर गांव को छोड़ दीजिए चक्कसकरन गांव भी घटना के खुलासे से है कोसों दूर


घटनाओं का खुलासा करने पर कुंभकरणी नींद में सो रहा है गाजीपुर थाना अध्यक्ष संगम लाल प्रजापति


उक्त दोनों घटनाओं के खुलासे के नाम पर अंधेरे में तीर चला रहे हैं खाकी के सूरमा



फतेहपुर। जनपद के ईमानदार पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह ने सभी थाना अध्यक्षों को लगातार चेतावनी देते हुए चले आ रहे हैं कि जिस थाना क्षेत्र में अपराधों पर अंकुश नहीं लगा और घटनाओं का खुलासा नहीं हुआ तो उपरोक्त थाना अध्यक्ष के खिलाफ शिथिल कार्यशैली को मानते हुए उनको पद मुक्त कर दिया जाएगा। पुलिस अधीक्षक के निर्देश का पालन जनपद के 19 थानों में भले ही लागू होता नजर आ रहा हो किंतु जनपद का 20 वा थाना गाजीपुर ऐसा है जहां पर तैनात थाना अध्यक्ष संगम लाल प्रजापति उनके निर्देशों का खुलेआम माखौल उड़ा रहे हैं। थाना अध्यक्ष पुलिस अधीक्षक के खौफ से बेखौफ होकर यह मान रहे हैं कि उत्तर प्रदेश में चुनाव आयोग ने विधानसभा चुनाव के चलते आचार्य संहिता लागू कर रखी है जिसके चलते पुलिस अधीक्षक उपरोक्त थाना अध्यक्ष के खिलाफ किसी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं कर सकते हैं यह बात थाना अध्यक्ष का मानना है और वह इस बात को भी जानते हैं कि यदि कोई कार्यवाही कर सकता है तो वह है चुनाव आयोग। मालूम रहे कि विगत 18 फरवरी को गाजीपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत बलीपुर गांव के समीप स्थित एक युवती की हत्या युक्त लाश पुलिस ने बरामद किया था जिसका चेहरा हत्यारों ने कुचल- कुचल कर बुरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिया था। लगभग 10 दिन बीत जाने के बाद भी गाजीपुर थाने के खाकी के सूरमा घटना का खुलासा करने की बात तो दूर की रही उपरोक्त युवती का शिनाख्त आज तक नहीं कर सकी है उपरोक्त घटना के खुलासे के नाम पर थाना अध्यक्ष संगम लाल प्रजापति महज अंधेरे में तीर चला रहे हैं। हैरत की बात तो यह है कि इसी थाना क्षेत्र के अंतर्गत चकसकरन गांव में लगभग 6 माह पूर्व भी एक अज्ञात युवती की हत्या युक्त लाश पुलिस ने बरामद किया था जिसका खुलासा गाजीपुर थाने के खाकी के सूरमा आज तक नहीं कर सके है इससे साफ प्रतीत होता है कि चकसकरन की घटना के अलावा वलीपुर की घटना भी खुलासा होने के बजाय दफन हो जाएगी।

Popular posts
प्रेम प्रसंग के चलते हुई हत्या परिजनों ने जताई आसंका
चित्र
आकांक्षा साहू का इलाहाबाद उच्च न्यायालय अपर समीक्षा अधिकारी ए.आर.ओ. के पद पर हुआ चयन
चित्र
राजस्थान प्रदेश के जनपद जालौर में मासूम दलित छात्र की हत्या के संबंध में भीम आर्मी मंडल अध्यक्ष ने जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन
चित्र
मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में जन सुविधा केंद्र के संचालन हेतु मुद्रा लोन दिए जाने के संबंध में उचित दर विक्रेताओं के साथ बैठक संपन्न
चित्र
बेखौफ बदमाशों ने ई-कार्ड कोरियर आफिस में तमंचे के बल पर लूटे 18 लाख 81 हजार
चित्र