अज्ञात शव पुलिस के लिए बना नासूर 3 दिन से परिजन लगा रहे हैं थाने के चक्कर लावारिस लाश एक्सीडेंटल समझ कर ललौली पुलिस ने पंचनामा भरकर कराया था पोस्टमार्टम सूचना पर पहुंचे परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

 अज्ञात शव पुलिस के लिए बना नासूर 3 दिन से परिजन लगा रहे हैं थाने के चक्कर लावारिस लाश एक्सीडेंटल समझ कर ललौली पुलिस ने पंचनामा भरकर कराया था पोस्टमार्टम सूचना पर पहुंचे परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप


फतेहपुर।


जिले के ललौली थाना और गाजीपुर थाना के बीच बॉर्डर में जिंदपुर गांव के पास 19 मार्च को एक अज्ञात शव सड़क के किनारे मिला था ग्रामीणों की सूचना पर ललौली पुलिस ने अज्ञात शव को पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। बाद में इसकी शिनाख्त अयाह गांव थाना गाजीपुर के शिवबली रैदास के नाम से शिनाख्त हुई। शिनाख्त के बाद परिजनों ने भट्ठा मालिक राजन व भट्टे का मुनीम पर साजिश के तहत हत्या का आरोप मढ़ दिया। वही वही मामले में एक मोड़ तब आया जब शिवबली रैदास की बेटी प्रियंका ने बताया कि भठ्ठे का मुनीम ने मुझे पकड़कर घसीट रहा था तभी प्रियंका की मां ने बचाने के लिए दौड़ी जिससे शिवबली ने भठ्ठे के मुनीम से पुलिस में शिकायत करने की धमकी दिया जिस से तिलमिलाए भट्ठे के मुनीम और मालिक राजन ने शिवबली को पहले दारू पिलाकर घर जाने को कहा तभी रास्ते में किसी गाड़ी से एक्सीडेंट करा दिया गांव के सैकड़ों लोगों ने परिजनों के साथ रोजाना थाने के चक्कर लगा रहे हैं और कह रहे हैं कि यह साजिश के तहत हत्या किया गया है और एक्सीडेंट का रूप दे दिया गया है वही ललौली थाना अध्यक्ष अमित कुमार मिश्रा ने बताया कि शिवबली की पत्नी मधु ने तहरीर दिया है और मुकदमा लिख लिया गया है जांच की कार्यवाही की जा रही है वही ललौली पुलिस ने भट्ठा मालिक राजन और मुनीम को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है