तेज़ दिमाग़ के लिए ज़रूर खाएं ये 6 फूड्स

 तेज़ दिमाग़ के लिए ज़रूर खाएं ये 6 फूड्स



न्यूज़। एक तरफ सही डाइट से दिमाग़ तेज़ होता है वहीं खराब डाइट लेने का असर सीधे तौर पर मानसिक स्वास्थ्य पर पड़ता है। नूट्रिशनिस्ट का कहना है कि 6 ऐसी फूड्स हैं जो दिमाग़ की सेहत को बढ़ावा दे सकते हैं।हमारा दिमाग़ सभी चीज़ों को कंट्रोल करता है- यह हमारी शरीर का वह मास्टर अंग है जो हर कार्य के साथ एक जटिल संबंध साझा करता है। आंत स्वास्थ्य हो या हृदय स्वास्थ्य, यकृत या गुर्दे का कार्य - मस्तिष्क में यह सब नियंत्रित करने की शक्ति होती है। जब आंत के स्वास्थ्य की बात आती है, तो आहार इसमें सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, ठीक इसी तरह दिमाग़ के काम को बेहतर करने के लिए अच्छी डाइट ज़रूरी है।

तो आइए जानें ऐसे फूड्स के बारे में जिनके सेवन से मूड बेहतर होता है, याददाश्त तेज़ होती है और दिमाग़ पूरी तरह से ताकतवर बनता है।


1. डार्क चॉकलेट

यह भले ही स्वाद में कड़वी होती है, लेकिन डार्क चॉकलेट को सबसे हेल्दी फूड्स में गिना जाता है, क्योंकि इसमें आयरन और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं।


2. मसाले


हल्दी से लेकर केसर, अदरक और कई तरह के मसाले हमारे खाने का स्वाद तो बढ़ाते ही हैं, साथ ही सेहत को भी कई तरह से फायदा पहुंचाते हैं। यह एंटी-इंफ्लामेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट्स के अच्छे स्त्रोत होते हैं तो ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस और इंफ्लामेशन से बचाते हैं। करक्यूमिन जैसा कंपाउंड बेचैनी या चिंता के जोखिम को कम करता है और ब्रेन कैमिस्ट्री को बेहतर बनाता है।

3. नट्स बादाम, अखरोट, काजू और ब्राज़ीलियन नट्स जैसे मेवे हेल्दी फैट्स का अच्छे स्रोत हैं, जो दिमाग़ के फंक्शन को सपोर्ट करते हैं, जोड़ों को चिकनाई देते हैं और हृदय को भी स्वस्थ रखते हैं। अखरोट में पाए जाने वाले ओमेगा -3 फैटी एसिड में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो याददाश्त और सोच को बेहतर बनाने के लिए जाने जाते हैं।


ओमेगा-3 फैटी एसिड्स से भरपूर अखरोट में एंटी-इंफ्लामेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जो याददाश्त और सोचने की शक्ति को बेहतर बनाते हैं। स्नैक्स में थोड़े बहुत बादाम खाने से आपकी दिमाग की सेहत में सुधार हो सकता है।

4. एवोकाडो


भारत में यह फल बेहद महंगा मिलता है, यही वजह है कि ज़्यादातर लोग इसके फायदों का लाभ नहीं उठा पाते। एवोकाडो मैग्नीशियम का बड़ा स्रोत है- एक ऐसा पोषक तत्व जो ब्रेन के सही फंक्शन से जुड़ा है। 1921 में एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि उत्तेजित अवसाद के इलाज में मैग्नीशियम से काफी फायदा हुआ। कई शोध में यह भी पता चला कि मैग्नीशियम की कमी का संबंध अवसाद से है।

5. फर्मेन्टड फूड्स


फर्मेन्टड खाने की चीज़ों में बैक्टीरिया और यीस्ट होता है, जैसे कि दही, किमची, कमबूछा और कोअरक्रॉट। ये खाद्य पदार्थ अच्छे बैक्टीरिया के स्रोत हैं, जो आंत के कार्य में सुधार करते हैं और फिर चिंता को कम करते हैं।


6. हरी पत्तेदार सब्ज़ियां


पालक जैसी हरी पत्तेदार सब्ज़ियां आसानी से उपलब्ध होती है, लेकिन ज़्यादातर लोगों को यह सब्ज़ियां पसंद नहीं आतीं। लेकिन वे यह नहीं समझ पाते कि केल, मेथी, पालक जैसी सब्ज़ियां फोलेट, आयरन, विटामिन-बी9 और फाइबर जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होती हैं, संज्ञानात्मक गिरावट को धीमा करते हैं। अगर आप अपने दिमाग़ की सेहत में सुधार चाहते हैं, तो रोज़ाना हरी पत्तेदार सब्ज़ी आपकी सेहत को फायदा पहुंचा सकती हैं।

टिप्पणियाँ