दवा विक्रेताओं को गर्भपात के बाद परिवार नियोजन के साधनों की दी जानकारी

 दवा विक्रेताओं को गर्भपात के बाद परिवार नियोजन के साधनों की दी जानकारी



फतेहपुर। जपाइगो संस्था की ओर से डिप्लोमेट होटल में दवा विक्रेताओं के साथ एक अभिमुखीकरण का आयोजन किया गया जिसमें परिवार नियोजन के साधनों को बढावा देने और गर्भपात से होने वाले दुष्प्रभावों को लेकर चर्चा की गई। दवा विक्रेताओं को गर्भपात के बाद परिवार नियोजन के साधनों की जानकारी दी गई।

            जपाइगो कंपनी के सीनियर प्रोग्राम आफीसर पंकज कुमार ने बताया कि परिवार नियोजन के साधनों को बढावा देने में दवा विक्रेताओं की महत्वपूर्ण भूमिका हो सकती है। अधिकांश महिलायें अनवांछित गर्भ ठहरने पर मेडिकल स्टोर से दवायें लेकर खा लेती हैं जिससे आगे चलकर स्वास्थ्य पर विपरीत असर पड सकता है। शर्म और संकोच के चलते महिलायें इस पर खुलकर बात भी नहीं कर पाती। स्टेट प्रोजेक्ट मैनेजर अमनेंदर कौर ने गर्भ निरोधक के अस्थायी और स्थायी तरीकों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान परिवार नियोजन से संबंधित प्रश्न उत्तर देने के लिये आस्क निवि ऐप की जानकारी दी गई। बताया इस ऐप के माध्यम से महिला और पुरूष बेझिझक प्रश्न पूछ सकते है। इस मौके पर केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष बीरेंद्र गुप्ता, सुनीत सिंह, गगन अग्रवाल, आनंदी सुब्रमन्यम, सौन्दर्या, विपिन मालवीय, यूपीटीएसयू के डिप्टी डायरेक्टर आशीष कुमार, सौरभ, प्रताप सिंह मौजूद रहे। राज्य स्तरीय कर्मचारी डा दिनेश सिंह, एवं डा0 नदीम अख्तर की ओर से सहयोग प्राप्त हुआ। सीएमओ डॉक्टर राजेंद्र सिंह ने आयोजन की सराहना की l उन्होंने कहा कि परिवार नियोजन को बढ़ावा देने के लिए ग्राम स्तर पर आशाएं काम कर रही हैंl ग्राम स्वास्थ्य पोषण दिवस सत्र पर भी परिवार नियोजन की सेवाएं दी जा रही हैंl