मुंबई के बिल्डर समरजीत की हत्या में वांछित दो शूटर गिरफ्तार, मुठभेड़ में ढेर मनीष भी हत्याकांड में था शामिल

 मुंबई के बिल्डर समरजीत की हत्या में वांछित दो शूटर गिरफ्तार, मुठभेड़ में ढेर मनीष भी हत्याकांड में था शामिल



न्यूज़।मुंबई के विरार में पिछले माह चर्चित बिल्डर समरजीत उर्फ समय चौहान की हत्या में वांछित दो शूटरों को एसटीएफ वाराणसी यूनिट ने मंगलवार को चितईपुर के आनंद नगर कॉलोनी से गिरफ्तार किया। आरोपी दोनों शूटरों से मुंबई की विरार पुलिस और एसटीएफ पूछताछ कर रही है। तफ्तीश में सामने आया कि पिछले दिनों मुठभेड़ में मारे गए दो लाख का इनामी मनीष सिंह सोनू का भी इस हत्याकांड से कनेक्शन था। मनीष ने ही दोनों शूटरों के साथ बिल्डर की गोली मारकर हत्या कर दी थी।एसटीएफ वाराणसी यूनिट के अपर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार सिंह के अनुसार पिछले माह 26 फरवरी को मुंबई के विरार थाना अंतर्गत डी-मार्ट के सामने चर्चित बिल्डर समरजीत उर्फ समय चौहान की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इसकी तफ्तीश मीरा भाइंदर वसई विरार क्राइम ब्रांच द्वारा की जा रही थी। सीसीटीवी फुटेज और सर्विलांस के जरिए टीम को मालूम चला कि शूटरों की लोकेशन वाराणसी में है।एसटीएफ से संपर्क करती हुई टीम कुख्यात शूटर राहुल शर्मा उर्फ राम व अभिषेक सिंह उर्फ अंकुर की खोजबीन में लगी। एसटीएफ वाराणसी निरीक्षक अनिल कुमार सिंह को सूचना मिली कि दोनों शूटर चितईपुर के आनंद नगर कॉलोनी में छिपे हुए हैं। घेराबंदी करती हुई टीम ने दोनों को दबोच लिया।

पूछताछ में सिंधोरा थाना के कटौना, बराव निवासी राहुल शर्मा उर्फ राम व कपसेठी थाना के लोहारडीह निवासी अभिषेक सिंह उर्फ अंकुर ने एसटीएफ को बताया कि वह गोलीवार सांताक्रूज ईस्ट मुंबई में रहते थे। 21 मार्च को मुठभेड़ में ढेर दो लाख इनामी व कई हत्याओं में वांछित कुख्यात अपराधी मनीष सिंह उर्फ सोनू के अलावा एक अन्य अपराधी के साथ बिल्डर की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। एसटीएफ के अनुसार उक्त फरार बदमाश की तलाश की जा रही है।

गिरफ्तार राहुल शर्मा उर्फ राम के बारे में उल्लेखनीय तथ्य है कि इसने वर्ष-2013 में विजय पुजारी उर्फ बट्टा निवासी निरमल नगर मुंबई की हत्या में आजीवन कारावास की सजा पा चुका है और तभी से फरार चल रहा है। फरारी के दौरान ही वर्ष-2013 में इसने अजील शेख मुंबई पर जान से मारने की नीयत से गोली मारी थी, जिसके संबंध में थाना निरमलनगर मुंबई में मुदकमा दर्ज है। वर्ष-2015 में मीरारोड थाना अंतर्गत पुष्पक होटल के पास बन्टी प्रधान की गोली मारकर हत्या की गई थी। मौजूदा घटना के साथ-साथ उक्त तीनों घटनाओं में भी वांछित चल रहा था।