मिशन शक्ति कार्यक्रम के अंतर्गत डॉ0 भीमराव आंबेडकर राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय में प्राचार्या की अध्यक्षता में बालिकाओं की आंतरिक क्षमता बढ़ाने हेतु बालिका पोषण विषय पर व्याख्यान आयोजित किया गया

 मिशन शक्ति कार्यक्रम के अंतर्गत डॉ0 भीमराव आंबेडकर राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय में प्राचार्या की अध्यक्षता में बालिकाओं की आंतरिक क्षमता बढ़ाने हेतु बालिका पोषण विषय पर व्याख्यान आयोजित किया गया



फतेहपुर।उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा के दृष्टिकोण से संचालित मिशन शक्ति कार्यक्रम के अंतर्गत डॉ0 भीमराव आंबेडकर राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय में प्राचार्या डॉ0 अपर्णा मिश्रा की अध्यक्षता में बालिकाओं की आंतरिक क्षमता बढ़ाने हेतु ‘‘बालिका पोषण‘‘ विषय पर व्याख्यान आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ डॉ. सरिता गुप्ता, डॉ. शोभा सक्सेना द्वारा सरस्वती वंदन एवं पुष्पार्चन के साथ हुआ। आज के कार्यक्रम के मुख्य वक्ता जन्तु विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डाॅ0 अजय कुमार ने अपने उद्बोधन में कहा कि पोषक तत्व शरीर को रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रदान करते हैं, खासकर किशोरावस्था में इस पर विशेष ध्यान देना जरूरी है क्योंकि इस समय शरीर में तेजी से बदलाव होते हैं। उन्होंने कहा कि हमें फास्ट फूड खाने से बचना होगा और अपने आहार में दूध, दही, मट्ठा, हरी पत्तेदार सब्जियां एवं मौसमी फलों को शामिल करना होगा। किशोरियों में शारीरिक और मानसिक विकास को बढ़ावा देने के लिए आयरन, कैल्शियम, विटामिन, प्रोटीन और फाइबर जैसे पोषक तत्वों को प्रयोग में लाना होगा। हमें सही मात्रा में और सही समय पर भोजन लेने की आदत डालनी होगी। इस कार्यक्रम में किशोरियों के लिए पोषण की आवश्यकता से सम्बन्धित एक लघु फिल्म भी दिखाई गयी जो कि यूनीसेफ द्वारा निर्मित थी। बी0एस-सी0 तृतीय वर्ष की छात्रा गौसिया सिद्दीकी एवं ज़ोया इदरीस द्वारा भी बालिका पोषण पर अपने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम का संचालन जन्तु विज्ञान विभाग की सुश्री अनुष्का छौंकर एवं धन्यवाद ज्ञापन राज कुमार द्वारा किया गया। उक्त अवसर पर मिशन शक्ति प्रभारी एवं नोडल अधिकारी डॉ चारू मिश्रा, 

 हेमन्त कुमार निराला, डॉ0 शकुंतला, डॉ0 लक्ष्मीना भारती, डॉ0 प्रशांत द्विवेदी, श्रीमती विदेह वर्मा, डॉ0 प्रतिमा गुप्ता, रमेश सिंह, श्री बसंत कुमार मौर्य, सुश्री जिया तसनीम,अशोक कश्यप एवं महाविद्यालय की छात्राएं उपस्थित रहीं।