यूपी में आज से मानसून करेगा अपनी एंट्री,इन जिलों में दो दिनों तक बारिश के आसार

 यूपी में आज से मानसून करेगा अपनी एंट्री,इन जिलों में दो दिनों तक बारिश के आसार



लखनऊ।उत्तर प्रदेश के लोग पिछले कई दिनों से आसमान से बरस रहे अंगारे और लू के थपेड़ों से परेशान हैं।अब इससे गुरुवार से थोड़ी राहत मिलने जा रही है।मौसम विभाग के मुताबिक आज गुरुवार से यूपी में मानसून अपनी एंट्री करेगा।यूपी के बड़े हिस्से में बारिश की संभावना जताई गई है।बुधवार रात से ही कई जिलों में मौसम के कड़क मिजाज में बदलाव हुआ है।गोंडा और अयोध्या से सटे जिलों में मौसम सुहावना हो गया।रात से रुक-रुक कर हो रही बारिश से तापमान में गिरावट आई है।

मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक 16 जून की सुबह 8 बजे तक जिन जिलों में बारिश की संभावना थी वे जिले बांदा, चित्रकूट, कौशांबी, प्रयागराज, फतेहपुर, प्रतापगढ़, सोनभद्र, मिर्जापुर, चंदौली, वाराणसी, भदोही, जौनपुर, कन्नौज, कानपुर देहात, कानपुर नगर, सहारनपुर, शामली, मुजफ्फरनगर, आगरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी, इटावा, औरैया, बिजनौर, मुरादाबाद, रामपुर, जालौन, हमीरपुर, महोबा, झांसी और ललितपुर है।

इसके अलावा 16 जून की सुबह 8 बजे से लेकर 17 जून की सुबह 8 बजे तक जिन जिलों में बारिश की संभावना जताई गयी है वे जिले हैं।नोएडा, लखनऊ, वाराणसी, प्रयागराज, मेरठ, कानपुर, बांदा, चित्रकूट, कौशांबी, फतेहपुर, प्रतापगढ़, सोनभद्र, मिर्जापुर, चंदौली, भदोही, जौनपुर, गाजीपुर, आजमगढ़, मऊ, बलिया, देवरिया, गोरखपुर, संत कबीर नगर, बस्ती, कुशीनगर, महाराजगंज, सिद्धार्थ नगर, गोंडा, बलरामपुर, श्रावस्ती, बहराइच, लखीमपुर खीरी,सीतापुर, हरदोई, फर्रुखाबाद, उन्नाव, बाराबंकी, रायबरेली, अमेठी, सुल्तानपुर, अयोध्या, अंबेडकर नगर, सहारनपुर, शामली, मुजफ्फरनगर, बागपत, गाजियाबाद, हापुड़, बुलंदशहर, अलीगढ़, मथुरा, हाथरस, कासगंज, एटा, बिजनौर, अमरोहा, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, पीलीभीत, शाहजहांपुर, संभल और बदायूं है।

टिप्पणियाँ
Popular posts
हुसैनगंज थाना पुलिस और क्राइम ब्रांच टीम ने मिलकर चोरी की 10 मोटरसाइकिल के साथ दो लोगों को किया गिरफ्तार
चित्र
मानसिक विक्षिप्त लड़की के साथ अस्पताल के कर्मचारी ने किया दुष्कर्म का प्रयास
चित्र
श्रद्धालुओं ने केन नदी की उतारी मंगल आरती
चित्र
जिलाधिकारी दीपा रंजन ने विकास खण्ड बिसण्डा के सभागार में ग्राम प्रधानों के साथ की समीक्षा बैठक
चित्र
जिलाधिकारी ने 20 से 25 फीसदी से कम दर पर कृषि यंत्र उपलब्ध कराने के लिए निर्देश
चित्र