मांस-मछली से तगड़ी हैं ये 5 देसी चीजें, शरीर को मिलेगा पूरा प्रोटीन, कमजोरी-खून की कमी होगी दूरl

 मांस-मछली से तगड़ी हैं ये 5 देसी चीजें, शरीर को मिलेगा पूरा प्रोटीन, कमजोरी-खून की कमी होगी दूरl




रोजाना प्रोटीन (Protein) से भरपूर खाद्य पदार्थों को खाने से न केवल शरीर की कोशिकाओं को बढ़ाने और मरम्मत में मदद मिलती है, बल्कि स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं भी दूर रहती हैं। प्रोटीन से आपको पूरे दिन ऊर्जावान रहने में मदद मिलती है। यह आपकी फालतू की चीजें खाने की लालसा कम करता है, जिससे आपको वजन कंट्रोल करने में भी मदद मिलती है।


प्रोटीन क्या है? प्रोटीन अमीनो एसिड से बने होते हैं। 9 अमीनो एसिड को आवश्यक अमीनो एसिड के रूप में भी जाना जाता है, जो शरीर को ठीक से काम करने के लिए अपने आहार से प्राप्त करना चाहिए। यदि आप मांसाहारी हैं, तो आपको अपने प्रोटीन अंडे, चिकन और मछली से प्राप्त कर सकते हैं।शाकाहारियों के पास प्रोटीन की आवश्यक खुराक प्राप्त करने के लिए पनीर, सोया उत्पाद, फलियां और अन्य दुग्ध उत्पाद हैं। फैट टू स्लिम की डायरेक्टर और न्यूट्रिशनिस्ट एंड डाइटीशियन शिखा अग्रवाल शर्मा आपको बता रही हैं कि अगर आप मांस-चिकन नहीं खाते हैं, तो आपको किन चीजों से प्रोटीन मिल सकता है।


रामदाना के बीजl रामदाना के बीज प्रोटीन और आवश्यक अमीनो एसिड का बहुत बेहतर स्रोत है। वास्तव में रामदाना बीज की सिर्फ एक सर्विंग में पहले से ही लगभग 5 ग्राम प्रोटीन होता है।


मूंगफलीl मूंगफली वास्तव में एक फलियां हैं और इनमें किसी भी अन्य अखरोट की तुलना में अधिक प्रोटीन होता है। मूंगफली में सभी 20 अमीनो एसिड अनुपात में होते हैं और यह 'आर्जिनिन' नामक प्रोटीन का सबसे बड़ा स्रोत है।


हरी मूंग दालl एक भारतीय थाली बिना दाल के अधूरी है। हरी दाल दुनिया में सबसे अच्छे पौधों पर आधारित प्रोटीन स्रोतों में से एक है। वे आवश्यक अमीनो एसिड से भरपूर होते हैं, जैसे कि फेनिलएलनिन, ल्यूसीन, आइसोल्यूसीन, वेलिन, लाइसिन, आर्जिनिन और बहुत कुछ।


चनाl चना प्रोटीन से भरपूर होता है जो शाकाहारी भोजन में सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है। छोले में औसत प्रोटीन सामग्री लगभग 18% है जो दाल से अधिक है। इसके अलावा, छोले लाइसिन और आर्जिनिन से भरपूर होते हैं।


पनीरl दिन भर के लिए अपने प्रोटीन की मात्रा को आसान बनाने के लिए, पनीर सबसे अच्छा फूड है। पनीर कम कीमत पर उपलब्ध पशु प्रोटीन का एक बेहतर स्रोत है और शाकाहारियों के लिए पशु प्रोटीन का एक महत्वपूर्ण स्रोत है।


डिस्क्लेमर: यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

Popular posts
प्रेम प्रसंग के चलते हुई हत्या परिजनों ने जताई आसंका
चित्र
आकांक्षा साहू का इलाहाबाद उच्च न्यायालय अपर समीक्षा अधिकारी ए.आर.ओ. के पद पर हुआ चयन
चित्र
राजस्थान प्रदेश के जनपद जालौर में मासूम दलित छात्र की हत्या के संबंध में भीम आर्मी मंडल अध्यक्ष ने जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन
चित्र
मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में जन सुविधा केंद्र के संचालन हेतु मुद्रा लोन दिए जाने के संबंध में उचित दर विक्रेताओं के साथ बैठक संपन्न
चित्र
बेखौफ बदमाशों ने ई-कार्ड कोरियर आफिस में तमंचे के बल पर लूटे 18 लाख 81 हजार
चित्र