पीड़ित को अपनी बीमार पत्नी को दिल्ली से घर लाने पर पड़ा महंगा,पीड़ित के सास, ससुर, तथा सालों ने पीड़ित व उसकी बीमार पत्नी पर किया जानलेवा हमला

 पीड़ित को अपनी बीमार पत्नी को दिल्ली से घर लाने पर पड़ा महंगा,पीड़ित के सास, ससुर, तथा सालों ने  पीड़ित व उसकी बीमार पत्नी पर किया जानलेवा हमला



पीड़ित की पत्नी का खराब है फेफड़ा जिसकी वजह से वह बीमार पत्नी को दिल्ली से घर लेकर आया था वापस


संबंधित थाने पर शिकायती पत्र दिए जाने पर नहीं हुई कोई सुनवाई,पीड़ित अपनी बीमार पत्नी के साथ पहुंचा पुलिस अधीक्षक की चौखट पर


फतेहपुर। जनपद के खागा कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत सुजराही गांव के निवासी दीपक कुमार पुत्र सुरेश चंद्र ने पुलिस अधीक्षक को एक शिकायती पत्र देते हुए बताया कि  उसकी पत्नी वंदना देवी का फेफड़ा खराब है और टीबी की मरीज भी है जिसका इलाज छह महीने तक चला है और अब बंद हो गया है जहां उसकी हालात ज्यादा खराब होने के कारण वह अपनी पत्नी को लेकर दिल्ली से अपने घर वापस आया था और फतेहपुर इलाज करवाने आने के लिए तैयार हो रहे थे जहां उसके ससुर राम सुमेर,साले अतीक,विनोद,विपिन ये सब मिलकर उसे और उसकी पत्नी के मारने पीटने लगे तभी पीड़ित की मां उसे और उसकी पत्नी को बचाने के लिए गई तो उसे भी बुरी तरह मारपीट दिया जहां उसकी मां को गंभीर रूप से चोटें भी आई।पीड़ित ने बताया कि जिसका वह संबंधित थाने पर शिकायती पत्र दिया तो वहां थाने पर कोई भी सुनवाई नहीं हो सकी है। वहीं पीड़ित ने बताया कि वह न्याय की उम्मीद लेकर अपनी बीमार पत्नी और मां को एंबुलेंस के जरिए एसपी ऑफिस पहुंचकर शिकायती पत्र देकर पीड़ित की पत्नी ने यह भी बताया की अगर मुझे कुछ होता है तो इसके जिम्मेदार मेरे माता-पिता भाई होंगे सब ने मिलकर मेरी लाठी-डंडों लात घूचो से मेरी व मेरे पति व सास की पिटाई की है पीड़ित की पत्नी जिंदगी और मौत से जूझ रही है एंबुलेंस के जरिए पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर शिकायती प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई है।