जिला पर्यावरणीय समिति एवं गंगा सुरक्षा समिति की बैठक मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में संपन्न

जिला पर्यावरणीय समिति एवं गंगा सुरक्षा समिति की बैठक मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में संपन्न



फतेहपुर।जिला पर्यावरणीय समिति एवं गंगा सुरक्षा समिति की बैठक कलेक्ट्रेट महात्मा गांधी सभागार में मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई । उन्होंने कहा कि शासन द्वारा निर्धारित वर्षाकाल 2022-23 में जिन विभागों द्वारा निर्धारित लक्ष्य के अनुसार पौधरोपण कराया गया है, जिन विभागों के पौधारोपण की जीओ टैगिंग अभी शेष है वह दो दिन अन्दर कराना सुनिश्चित करे अन्यथा कड़ी कार्यवाही की जाएगी । वर्ष 2022-23 में रोपित किये गए पौधे की परस्पर निगरानी करके सुरक्षा भी की जाए, जिससे कि पर्यावरण संतुलन बना रहे । अमृत महोत्सव के तहत ग्राम पंचायत/नगर पंचायत में अमृत उद्यान बनाने के लिए जिन स्थलों का चयन किया गया है उनका जल्द से जल्द जीओ टैगिंग कराना सुनिश्चित करे । अमृत उद्यान बनाने के लिए नियमानुसार मेड़ बन्दी व अन्य कार्य किये जाने है, को पूरा कराते हुए पौधरोपण किया जाए । उन्होंने ठोस अपशिष्ट, प्लास्टिक अपशिष्ट, कंस्ट्रक्शन एवं डिमोलिशन वेस्ट प्रबंधन , जैव चिकित्सा अपशिष्ट, ई-वेस्ट प्रबंधन पर विस्तार से चर्चा की गयी । उन्होंने कहा कि जो नोडल अधिकारी लगाए गए है नियमानुसार कार्यवाही करके पूरा कराये । 

गंगा सुरक्षा समिति की समीक्षा के दौरान कहा कि गंगा किनारे के ग्रामो में पौधरोपण किया जाए और गंगा सफाई का विशेष ध्यान रखा जाए,  इसके लिए एक वृहद गोष्ठी का आयोजन कराने के निर्देश दिए । 

इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी न्यायिक  धीरेन्द्र प्रताप, प्रभागीय सामाजिक वनाधिकारी  रामानुज त्रिपाठी, डीसी मनरेगा अशोक कुमार गुप्ता, डीपीआरओ उदयराज सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक  देवकीनंदन, उप कृषि निदेशक राममिलन सिंह परिहार, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी संजय कुशवाहा, जिला उद्यान अधिकारी श्याम सिंह, अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका परिषद सदर श्रीमती मीरा सिंह सहित सम्बन्धित उपस्थित रहे ।