वृंदावन के बांके बिहारी मंदिर में कैसे हुआ हादसा, प्रत्यक्षदर्शी ने बताई आंखों देखी

 वृंदावन के बांके बिहारी मंदिर में कैसे हुआ हादसा, प्रत्यक्षदर्शी ने बताई आंखों देखी          



न्यूज़। जन्माष्टमी पर वृंदावन के बांके बिहारी मंदिर में हुए हादसे का कारण क्षमता से अधिक भीड़ आना बताया जा रहा है। शुक्रवार की रात मंदिर परिसर में मंगला आरती के दौरान हजारों की तादाद में श्रद्धालु प्रवेश कर गए थे। भीड़ के दबाव में कई लोग गिर गए, जिससे अफरातफरी मच गई। हरियाणा के फरीदाबाद निवासी नेत्रपाल भी अपने परिवार के साथ जन्माष्टमी पर बांके बिहारी मंदिर में दर्शन को आए थे। किसी तरह वह भीड़ से बचकर बाहर निकले और परिवार के लोगों को भी सुरक्षित निकाला। नेत्रपाल ने घटना का आंखों देखा हाल बताया तो वह सिहर उठे। उन्होंने कहा कि एक बार वह भी घबरा गए थे कि भीड़ से बचकर कैसे बाहर निकलेंगे। बता दें कि बांके बिहारी मंदिर में शुक्रवार की रात मंगला आरती के दौरान भीड़ के दबाव के कारण दो श्रद्धालुओं की मौत हो गई। मृतकों में एक महिला और एक पुरुष है। सात श्रद्धालु घायल हुए हैं। इनको अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।  श्रद्धालु नेत्रपाल ने बताया कि वह परिवार के साथ बांके बिहारी मंदिर में दर्शन के लिए आए थे। रात करीब एक बजे मंदिर के बाहर पहुंचे। उस वक्त मंदिर के बाहर हजारों की तादाद में भीड़ थी। रात के करीब 1.45 बजे पट खुले तो श्रद्धालुओं की भीड़ मंदिर में प्रवेश कर गई।

टिप्पणियाँ
Popular posts
ओम घाट में डूबती महिला को पीएसी जवान ने बचाया
चित्र
मदरसा संचालक ने पुलिस अधीक्षक को सौंपा अवैध कब्जा रोकने का शिकायती पत्र
चित्र
गड्ढे के अंदर संचालित हो रही असलहा फैक्ट्री का पुलिस ने किया भंडाफोड़
चित्र
सेलावन गांव में चार नवनिर्मित शौचालयों का किया गया शुभारंभ
चित्र
नगरी निकाय सामान्य निर्वाचन 2022 सहित तैयार कर आने जाने वाली मतदाता सूची के संबंध में जिला निर्वाचन अधिकारी की अध्यक्षता में बैठक संपन्न
चित्र