यमुना नदी का लगातार बढ़ रहा जल स्तर, घरों को छोड़ बाहर निकलने लगे ग्रामीण

 यमुना नदी का लगातार बढ़ रहा जल स्तर, घरों को छोड़ बाहर निकलने लगे ग्रामीण



बांदा - जनपद बांदा में पैलानी तहसील के यमुना किनारे के गांव बाढ़ से प्रभावित होते नजर आ रहे हैं जिसके चलते लोग अपना घरों से सामान निकाल कर सुरक्षित ठिकानों की तलाश में निकलने लगे हैं।

चंदवारा सहित गौरी खुर्द अमचौलि आदि गांवों में यमुना नदी के बाढ़ का पानी अब घरों में घुस रहा है। बाढ़ से प्रभावित गांवों के लोगो ने घरों से अपना सामान निकालकर सुरक्षित स्थानों पर अपना सामान बच्चे व अपने मवेशियों को लेकर निकलने लगे है।

पैलानी तहसील प्रशाशन व बाढ़ को देखने आने वाले भाजपा के  मंत्री रामकेश निषाद के द्वारा भी बाढ़ से प्रभावित इलाकों का दौरा किया गया है। लेकिन आम आदमी पार्टी के नेता पुष्पेंद्र सिंह चुनाले के द्वारा बताया गया की अधिकारी केवल पैलानी तहसील के आसपास केन नदी की बाढ़ से प्रभावित गांवों में घुमा रहे हैं।

यमुना नदी से तिरहार के लगभग 10, से ज्यादा गांव (चंदवारा; गौरी खुर्द आमचौली; गड़ोला; बड़ागांव; मड़ौली; सबहदा आदि)के लोग बाढ़ की चपेट में हैं या आ जाएंगे चूंकि यमुना का जलस्तर अभी भी बढ़ रहा है !

आम आदमी पार्टी के नेता पुष्पेंद्र सिंह चुरा ले ने कहा की बार बार जिम्मेदार अधिकारियों से बताने व निवेदन करने पर भी अधिकारियों के कान में आवाज नहीं पहुंच रही है। लगातार अधिकारियों से निवेदन करने के बाद भी अभी तक यमुना नदी से प्रभावित बाढ़ क्षेत्रों में न तो स्टीमर भेजा गया है  न ही  स्वास्थ्य सम्बन्धी सुविधाएं, और न ही बाढ़ पीड़ितो के लिए कोई राहत सामग्री, आखिर सरकार के जिम्मेदार नुमाएंदे व जिम्मेदारो को बाढ़ प्रभावित गांवों का निरीक्षण करके गांव के निवासियों को प्रशासनिक सरकारी सुविधाएं उपलब्ध कराई जानी चाहिए। पुष्पेन्द्र सिंह चुनाले  नि; प्रदेश उपाध्यक्ष/ प्रभारी बुंदेल खंड आम आदमी पार्टी किसान प्रकोष्ठ उत्तर प्रदेश

टिप्पणियाँ