कोर्ट में मुकदमा विचाराधीन होने के बावजूद प्रशासन का गरजा बुलडोजर

 कोर्ट में मुकदमा विचाराधीन होने के बावजूद प्रशासन का गरजा बुलडोजर



बिना किसी सूचना के मकान को किया गया जमींदोज पीड़ित का काफी समान हुआ खराब


फतेहपुर।गाजीपुर थाना क्षेत्र के बामन मवइया निवासी फूलमती वाइफ आप ननकाई ने बताया कि यह हमारी आबादी की लगभग 40 साल पुरानी पट्टे की जमीन है   जिसमें हम लोगों  ने मकान बनवा कर रह रहे थे और शेष जमीन में सरकारी समिति बनवाने के लिए दे दिया गया था कुछ शेष बची जमीन  थी जिसमें मेरे दो बेटे नरसिंह पुत्र ननकाई व विमल पुत्र ननकाई दोनों अलग अलग मकान बनाकर रह रहे थे इसमें नरसिंह ने कुछ हिस्से में आटा चक्की व तेल का कारखाना भी लगवा रखा था जिससे उसका जीवन यापन होता था गांव के शिव करण सिंह ने चुनावी रंजिश को मानते हुए हमारी झूठी शिकायत कर शासन से कर हमारे मकानों को अवैध बताते हुए तुड़वा दिया  जिस जमीन का मन मुकदमा न्यायालय में विचाराधीन है जिसमें राजस्व टीम में तहसीलदार नायब तहसीलदार व लेखपाल टीम सहित पुलिस बल मौके पर पहुंचकर जेसीबी से हमारा कारखाना तोड़ते हुए मकान भी गिरा दिया गया जिससे हम लोग फुटपाथ व भुखमरी के कगार पर आ गए हैं  

 वही नायब तहसीलदार ने बताया कि विमल नरसिंह पुत्र नानकाई के माकान व कारखाने सहकारी समिति की जमीन पर बने हुए थे जिससे इन लोगों को नोटिस दिया गया था  

वही नरसिंह का कहना है जबकि बिना सूचना के मकान को धराशाई कर मुझे बे घर कर दिया गया जिससे  मेरे बैठने के लिए जगह नही है ना ही सोने के लिए छत है

टिप्पणियाँ