समाजवादी पार्टी द्वारा स्वर्गीय मुलायम सिंह यादव की श्रद्धांजलि का कार्यक्रम पार्टी कार्यालय में सकुशल हुआ संपन्न

 समाजवादी पार्टी द्वारा स्वर्गीय मुलायम सिंह यादव की श्रद्धांजलि का कार्यक्रम पार्टी कार्यालय में सकुशल हुआ संपन्न



फतेहपुर। समाजवादी पार्टी के संस्थापक व मुखिया स्वर्गीय मुलायम सिंह यादव की श्रद्धांजलि सभा का कार्यक्रम माल्यार्पण करके पार्टी कार्यालय में संपन्न हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष विपिन सिंह यादव ने किया। उन्होंने अपने वक्तव्य में कहा कि मुलायम सिंह यादव का जन्म 22 नवंबर 1939 को हुआ था। वह भारत के पिछड़ों के सबसे बड़े नेता एवं उत्तर प्रदेश में 3 बार के मुख्यमंत्री तथा भारत देश के रक्षा मंत्री भी रहे। नेताजी मूलतः एक शिक्षक थे। समाज में व्याप्त भेदभाव को देखकर वे राजनीति में आए थे। 1967 में उत्तर प्रदेश विधानसभा में पहली बार सदस्य चुने गए। 1977 में वह पहली बार उत्तर प्रदेश के सहकारिता मंत्री बने, 1980 में लोक दल के अध्यक्ष बने, 1982 से 1985 तक उन्होंने उत्तर प्रदेश विधान परिषद में विपक्ष के नेता के रूप में संभाला तथा 1985 से 1986 तक नेता विरोधी दल 1989 में वह पहली बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने। 1992 में उन्होंने समाजवादी पार्टी की स्थापना की 1993 में वहीं दूसरी बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने। 1996 में मैनपुरी क्षेत्र से लोकसभा सदस्य चुने गए तथा देश के रक्षा मंत्री बने। 2003 में दूसरी बार मुख्यमंत्री बने और हर समय उन्होंने उत्तर प्रदेश को खुशहाली की ओर अग्रेषित किया किसान, नौजवान, व्यापारी, मजदूर को सिंचाई, पढ़ाई, दवाई जैसी मुक्त योजना देकर सभी वर्गों के लोगों को खुशहाल रखा। नेता जी ने गरीबी से लड़कर गरीबों को लड़ना सिखाया तथा वह समाज के दबे, कुचले, शोषित, वंचित नौजवानों को किसानों की आवाज बनकर उत्तर प्रदेश की राजनीति की व अन्याय के खिलाफ कभी सर न झुकाया आजीवन किसान, नौजवान, व्यापारियों प्रदेश शोषित वंचित समाज की लड़ाई लड़ते रहे तथा लोहिया जी के समाजवाद के सपने को धरातल पर उतारकर समाजवाद की विचारधारा को मजबूत करने के साथ जीवित रखा। वह 8 बार विधायक 7 बार सांसद एक बार एमएलसी रहे। 1967 में विधायक बनने के बाद नेता जी ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। देश के बहुत बड़े किसानों, नौजवानों, पिछड़ों को नेता के मंच में अपने आप को स्थापित किया तथा जमीन से जुड़कर राजनीति की तरह समाजवाद की जड़ों को और गहरी कर अमर हो गए।वही इस कार्यक्रम का संचालन जिला महासचिव देवी गुलाम कुशवाहा ने किया। इस मौके पर पूर्व विधायक मदन गोपाल वर्मा, पूर्व जिला अध्यक्ष वजीउल्लाह, दलजीत निषाद, मोहम्मद मोइन खान, रामेश्वर दयाल दयालु, सुरेंद्र यादव, नफीस उद्दीन, महेंद्र बहादुर सिंह, मोहम्मद हाजी रजा, हुमायूं सभासद, सुरेश पाल रावत, रीता प्रजापति, संगीता राज पासी, रेशमा सिद्धकी, प्रेमनाथ विश्वकर्मा, राम किशोर प्रजापति, रामतीर्थ परमहंस, राजेंद्र बहादुर, मतीन अहमद, अनिरुद्ध यादव, अयूब खान, वासुदेव पासी, शुगर सिंह यादव, रवींद्र यादव, चौधरी मंजर यार, मुन्ना बाजपेई, सूर्यभान यादव, रमेश पासी, बछराज, रामगुलाम, बाबू यादव, प्रमोद यादव, वीरेंद्र यादव आदि सैकड़ों लोग रहे मौजूद।

टिप्पणियाँ
Popular posts
तेज रफ्तार रोडवेज बस अनियंत्रित होकर खाई मे जा पलटी
चित्र
हुसैनगंज थाना पुलिस और क्राइम ब्रांच टीम ने मिलकर चोरी की 10 मोटरसाइकिल के साथ दो लोगों को किया गिरफ्तार
चित्र
मानसिक विक्षिप्त लड़की के साथ अस्पताल के कर्मचारी ने किया दुष्कर्म का प्रयास
चित्र
जिलाधिकारी ने 20 से 25 फीसदी से कम दर पर कृषि यंत्र उपलब्ध कराने के लिए निर्देश
चित्र
प्रदेश कमाने गए पति की गैरमौजूदगी में महिला के साथ पड़ोसियों ने किया बदसलूकी
चित्र