इलेक्ट्रो होम्योपैथी के जनक का जन्मदिन प्रदेश के जिला कार्यालय खंभापुर में धूमधाम से मनाया गया

 इलेक्ट्रो होम्योपैथी के जनक का जन्मदिन प्रदेश के जिला कार्यालय खंभापुर में धूमधाम से मनाया गया



फतेहपुर। बोर्ड आफ इलेक्ट्रो होम्योपैथी मेडिसिन उत्तर प्रदेश लखनऊ के जिला कार्यालय खंभापुर फतेहपुर में इलेक्ट्रो होम्योपैथी के जनक डॉक्टर काउंट सीजर मैटी का जन्मदिन धूमधाम से मनाया गया। पूर्व सूबेदार मेजर उत्तर प्रदेश पुलिस हाजी अनीस उल्ला सिद्दीकी ने डॉक्टर काउंट सीजर मैटी की तस्वीर पर माल्यार्पण किया। इस अवसर पर काउंट मैटी मेमोरियल क्लीनिक  खंभा पुर के  चिकित्सक एवं बी.ई.एच.एम . उत्तर प्रदेश लखनऊ के जिला प्रभारी ने कहा कि इलेक्ट्रो होम्योपैथी एक स्वतंत्र चिकित्सा पद्धति है। जानकारी के अभाव में लोग इसे होम्योपैथी ही समझ लेते हैं, इलेक्ट्रो होम्योपैथी होम्योपैथी के जन्म के लगभग 70 साल के बाद इटली में 18 56 ईस्वी में जन्मी है ।

होम्योपैथी का आविष्कार 1796 में जर्मनी में हुआ था। जिसकी खोज डॉक्टर सैमुअल हैनीमैन ने की थी। इलेक्ट्रो होम्योपैथी की दवाएं शुद्ध वनस्पति जगत पर आधारित हैं जबकि होम्योपैथी की दवा है वनस्पति जगत के अतिरिक्त खनिज पदार्थ से भी बनती हैं डॉक्टर वकील अहमद ने जिले के समस्त इलेक्ट्रो होम्योपैथी डॉक्टर को इलेक्ट्रो होम्योपैथी से ही चिकित्सा सेवा कार्य करने को कहा है उन्होंने कहा उत्तर प्रदेश शासन चिकित्सा अनुभाग 6 के अंतर्गत शासन की मंशा और बोर्ड के आदेशानुसार यदि कोई इलेक्ट्रो होम्योपैथी चिकित्सक किन्ही अन्य चिकित्सा पद्धति से चिकित्सा सेवा कार्य करते हुए पाया जाएगा तो उसके विरुद्ध उचित कार्यवाही की जाएगी।

इस अवसर पर इलेक्ट्रो होम्योपैथ डॉक्टर हरी प्रसाद गुप्ता, के अतिरिक्त समाज के संभ्रांत नागरिक और पत्रकार बंधु उपस्थित रहे।

डॉक्टर वकील अहमद ने बाद में सबका मुंह मीठा कराया । और आभार व्यक्त किया।

टिप्पणियाँ
Popular posts
विकास को 7 बार किस सांप ने काटा? सामने आई सच्चाई, अफसरों ने सुलझाई सच और झूठ की पहेली
चित्र
असोथर के 45 शिक्षकों ने संकुल पद से दिया इस्तीफा, धरना प्रदर्शन करके सरकार विरोधी लगाए नारे
चित्र
सरकारी जमीन पर मस्जिद निर्माण से तनाव, हिंदू संगठनों ने की महापंचायत
चित्र
असोथर बैंक के स्थापना दिवस पर संगोष्ठी एवं ग्राहक अभिनंदन के साथ किया गया वृक्षारोपण
चित्र
विप्लवी ने असिस्टेंट कमिश्नर बन कर जनपद का नाम किया रोशन
चित्र