अभियोजन कार्यों की मासिक समीक्षा बैठक जिलाधिकारी की अध्यक्षता में संपन्न

 अभियोजन कार्यों की मासिक समीक्षा बैठक जिलाधिकारी की अध्यक्षता में संपन्न




फतेहपुर। महात्मा गाँधी सभागार कलक्ट्रेट में  जिलाधिकारी  श्रीमती सी.इंदुमती की अध्यक्षता में अभियोजन कार्यों की  मासिक समीक्षा  बैठक सम्पन्न हुई। उन्होंने कहा कि जनपद में कानून व्यवस्था को सुदृढ़ बनाए रखने हेतु अभियोजन के लाम्बित वादों में गंभीर मुकदमों के मामलों जैसे पॉक्सो, गैगस्टर, हत्या, महिला अपराध आदि मुकदमों पर प्रभावी पैरवी कर गम्भीरता के साथ  अपराधियों को सजा दिलायी जाय। जिससे कि पीड़ितों को त्वरित न्याय मिल सके। उन्होंने अभियोजन अधिकारी को निर्देशित किया कि गंभीर प्रकृति के मुकदमों की सूची एवं मुकदमों में दोषमुक्त हुए, में स्पष्ट कारण सहित रिपोर्ट उपलब्ध कराए। इसके अलावा परिवारिक न्यायालय, विद्युत, सामाजिक वानिकी, खाद्य विभाग, गुंडा एक्ट, प्रोबेशन विभाग, फौजदारी, बाट-माप,खाद्य सुरक्षा, श्रम विभाग आदि के लाम्बित वादों की समीक्षा किया।  उन्होंने कहा कि गम्भीर प्राकृति के वादों में प्रभावी पैरवी कर अधिक से अधिक दोषियों को सजा दिलायी जाय। जिससे अपराधी किस्म के लोगों को यह मैसेज जाये कि छोटा से छोटा अपराध करने पर भी वे सज़ा से बच नहीं सकते हैं। न्यायालयों में विचाराधीन मामलों में सफल अभियोजन पैरवी कर सजा का प्रतिशत बढ़ाया जाना चाहिए। ताकि न्यायालयों में लंबित पुराने मामलों का निस्तारण शीघ्र हो सके।इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक उदय शंकर सिंह, अपर जिलाधिकारी (वित्त/राजस्व) अविनाश त्रिपाठी जेल अधीक्षक, उप जिलाधिकारी सदर, बिंदकी, खागा, पुलिस क्षेत्राधिकारी सदर, बिंदकी, जाफरगंज, जिला कृषि अधिकारी , जिला अल्प संख्यक कल्याण अधिकारी, शासकीय अधिवक्तागण सहित अन्य जनपद स्तरीय अधीकारी उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ
Popular posts
वर्षा/ ओलावृष्टि के कारण भेडो में मची भगदड़ के चलते 167 भेडो की मौत जबकि 16 भेडे घायल
चित्र
यूपीएससी में हुआ किसान के बेटे का चयन,किया गांव का नाम रोशन
चित्र
पत्नी द्वारा लगाए गए आरोप को पति ने बताया मनगढ़ंत कहानी
चित्र
व्यापारी के साथ हुई मारपीट कांड की डीसीपी ने की जांच पडताल
चित्र
पत्नी के नाम खरीदी प्रॉपर्टी पर परिवार का भी हक, मकान-जमीन रजिस्ट्री कराने से पहले जान लें HC का फैसला
चित्र