दो मासूम बच्चियो के शव तालाब के किनारे मिलने से गांव में मचा हड़कंप

दो मासूम बच्चियो के शव तालाब के किनारे मिलने से गांव में मचा हड़कंप


फतेहपुर/छिछिनी
असोथर थाना क्षेत्र के ग्राम छिछिनी में  तकरीबन 2:00 बजे दो सगी बहने साग तोड़ने के लिए घर से  खेत गई हुई थी देर शाम जब वह घर नहीं पहुंची तो परिजनों में चिंता बढ़ी उन्होंने उन दोनों बहनों को खोजना शुरू किया तभी उन्हें पता चला कि गांव से लगभग 500 मीटर की दूरी पर एक तालाब में उन दोनों बच्चियों का शव घायल अवस्था में मिला शव मिलने के कारण परिवार तथा ग्रामीणों में हड़कंप मच गया। आनन फानन ग्रामीणों ने इसकी सूचना असोथर थाने में दी जब तक पुलिस वहां पहुंचती तब तक लोगों ने उन दोनों बहनों का शव घर पहुंचा दिया था परिजनों का मानना है कि उन दोनों बहनों के साथ रेप करने के बाद उनकी हत्या की गई है जबकि पुलिस प्रशासन इस बात को नकारते हुए बता रही है कि उन दोनों बहनों की हत्या तालाब में  सिंघाड़ा तोड़ते समय डूबने से हुई है लेकिन ग्रामीणों का कहना है कि यदि दोनों तालाब में डूबती तो उनके पेट में पानी होता जबकि ऐसा कुछ भी नही था और दोनों के चेहरे पर घाव तथा चोट के निशान पाए गए बड़ी बहन किरन जिसकी उम्र महज 11 वर्ष थी छोटी बहन शुभी जिसकी उम्र लगभग 8 वर्ष थी किरन के सर पर  किसी वस्तु से प्रहार किया पाया गया सीओ सिटी अनिल कुमार ने बताया कि ऐसा कुछ नहीं है यह सारी घटना सिंघाड़े की लालच में तालाब में डूबने से हुई है ग्रामीणों ने बताया कि पुलिस प्रशासन उस परिवार पर जबरदस्ती कर रही है उसने बिना किसी पंचनामा भरे लाश को पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया । इस अनैतिक घटना से ग्रामीणों में हलचल मची हुई है गांव में कल रात से भारी मात्रा में पुलिस प्रशासन मौजूद रहा ताकि किसी भी तरह की कोई गड़बड़ी ना होने पाए लोगों में दहसत का माहौल बना हुआ है कि यह कोई महज एक घटना है या इसे दुर्घटना का रूप दिया जा रहा है यह अभी भी एक रहस्य बना हुआ है देखते है पुलिस प्रशासन इसकी तह तक जाती है या इसे घटना का नाम देकर दबा देती है।