सरदार वल्लभभाई पटेल फाउंडेशन के मुख्य ट्रस्टी ने प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा

सरदार वल्लभभाई पटेल फाउंडेशन के मुख्य ट्रस्टी ने प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा


फतेहपुर।लव पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल फाउंडेशन के मुख्य ट्रस्टी राजेश सिंह ने आज प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपते हुए बताया कि किसानों द्वारा पराली जलाने के संबंध में किसानों को पराली जलाने पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है भारत एक कृषि प्रधान देश है इसी जगह देशभर में फैक्ट्रियां का जहरीला धुआं निकलता रहता है एवं विभिन्न आयोजनों एवं त्योहारों में पटाखा प्रवाहित जैसे अन्य विस्फोटक सामग्री ओं का प्रयोग किया जाता है जिससे जहरीला धुआं निकलता है पूरे देश में धुआं ही धुआं दिखाई पड़ता है जिससे पर्यावरण प्रदूषित किया जाता है साथ ही तमाम बीमारियां एवं कृतियों का जन्म होता है जिस पर सुप्रीम कोर्ट एवं राज्य सरकार के सरकारी आजादी से लेकर आज तक प्रतिबंध नहीं लगा शकील खेती करने वाला अन्नदाता किसान जो अनाज पैदा करके देश भर के लोगों को खाना खिलाता है एवं किसान के अनाज से जीव जंतु पशु पक्षी भी अपना भोजन प्राप्त करते ऐसे अन्नदाता किसान पर कृषि प्रधान देश में इस तरह के प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं प्रतिबंध लगाने से पूर्व समस्या के समाधान के लिए कोई ठोस वक्ता उपाय किया जाना चाहिए था किसान की समस्या के बारे में राजनैतिक दल व किसानों के हितेषी अन्य लोग मौन होकर बैठे हुए हैं किसानों की उनकी उपज का सही मूल्य दिलवाने में भी पर्याप्त कदम नहीं उठाए जा रहे हैं लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल फाउंडेशन भारत सरकार से मांग करता है कि पराली के नाम पर एवं अन्य विषयों से लेकर किसानों को परेशान ना किया जाए एवं उनकी उपज की उचित मूल्य दिलाने पर सार्थक कदम उठाया जाए साथ ही देश भर में कल कारखानों से निकलने वाला जहरीला धुआं एवं अन्य आयोजनों पटाखा आवासों व अन्य विस्फोटक सामग्रियों के उत्पादन पर प्रतिबंध लगाया जाए तो पर्यावरण को शुद्ध करने में सार्थक पहल होगी


Popular posts
योगी की नही विद्युत वितरण खंड प्रथम में चल रही है सपा मानसिकता के रामसनेही की सरकार
चित्र
14 साल की नाबालिग का थाने में हुआ प्रसव:
चित्र
भ्रष्ट अधिशासी अभियंता के रहते नहीं हो सकता है योगी सरकार का सपना साकार- तिवारी
चित्र
अगर आता है आपको भी बार-बार पेशाब, तो समझ लीजिए कि शरीर में पनप रही है ये बीमारियां
चित्र
आज हम बात करेंगे फूलन देवी के सहादत दिवस के अवसर पर बात करेंगे कि फुलवा से कैसे फूलन बनी फूलन देवी का विस्तृत परिचय
चित्र