यौन साइबर अपराध के मामलों में अब 155-260 पर 24 घंटे मिलेगी मदद

यौन साइबर अपराध के मामलों में अब 155-260 पर 24 घंटे मिलेगी मदद


रोज आ रही हैं 150 से ज्यादा कॉल्स


(न्यूज़)।साइबर अपराध के दौरान या बाद में सहायता देने के लिए  155-260 हेल्पलाइन सेवा शुरू हुई थी।योजना की सफलता देखते हुए इसे जल्दी ही 24 घंटे उपलब्ध कराने की योजना महिला-बच्चियों को साइबर क्राइम से बचाने के लिए शुरू हुई। इस सेवा में हर तरह की मदद के लिए लोग कॉल कर रहे।डिजिटलीकरण बढ़ने के साथ-साथ साइबर अपराध की घटनाओं में भी लगातार बढ़ोतरी हो रही है।वर्ष 2020 की पहली तिमाही में ही साइबर हमलों में 37 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है।इन हमलों में अपराधियों का बड़ा उद्देश्य आर्थिक फ्रॉड करना होता है, जबकि इसके अलावा महिलाओं से छेड़छाड़ की घटनाएं भी आम हो गई हैं। महिलाओं को यौन साइबर अपराधों के मामलों में सहायता पहुंचाने के लिए 155-260 हेल्पलाइन की शुरूआत की गई थी।इस पर महिलाओं-बच्चियों को सहायता पहुंचाई जाती है। यह सेवा अभी सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक के लिए ही उपलब्ध है।