युवा संगठन ने गांव की प्रथा को आगे बढ़ाने का लिया संकल्प

युवा संगठन ने गांव की प्रथा को आगे बढ़ाने का लिया संकल्प


अमौली(फतेहपुर)।जिले के अमौली ब्लाक के मठ मजरे बबई ग्राम में अभी तो बस इश्क हुआ है कान्हा से मंजिल तो 13वें साल वृन्दावन में मिलेगी।पुराने समय से चली आ रही प्रथा  मौन व्रत की जो कि दीवाली के दूसरे दिन गोवर्धन पूजा के दिन होती है।सौरभ सिंह त्रिलोकचंदी व उनके गुरु अमर सिंह तथा उनके सभी युवा साथी गांव की इस अनोखी प्रथा को आगे बढ़ाते हुए जो कि अपने 13वें साल तक आगे बढ़ाएंगे, इस 6वें वर्ष
 सब लोग 2 दिन का व्रत और 1 दिन निर्जला व्रत के साथ मे दोपहर को गाय पूजा के साथ  मौन व्रत संकल्प के साथ मौन होते है उसके बाद एक खेत मे मौन चराते हुए, गांव गांव दिवारी खेलते हुए, पैरों में बिना कुछ पहने 5 गांव घूमते है, और भी बहुत सी पाबंदियों के साथ, आज ढोल बांजो व सभी ग्रामीणों के साथ गांव की प्रथा को आगे बढ़ाया।