सीबीएसई और विभिन्न राज्यों के बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षा के परिणाम जुलाई-अगस्त में होंगे घोषित

 सीबीएसई और विभिन्न राज्यों के बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षा के परिणाम जुलाई-अगस्त में होंगे घोषित



(न्यूज़)।कोरोना संक्रमण के चलते शैक्षणिक सत्र 2021-22 दो से तीन महीने देरी होगी। सीबीएसई और विभिन्न राज्यों के बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षा में देरी के कारण परिणाम जुलाई-अगस्त तक आएगा।इसलिए उच्च शिक्षण संस्थानों का नया सत्र भी देरी से शुरू होगा। सत्र में देरी की समीक्षा और तैयारी के लिए राज्यों से बात करके केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय और विश्वविद्यालय अनुदान आयोग कमेटी गठित करेगा। एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, संक्रमण से बचाव के चलते मार्च 2020 से शिक्षण संस्थान बंद हैं। इससे बोर्ड समेत अंतिम वर्ष के छात्रों की परीक्षा में देरी हुई, जिसका असर शैक्षणिक सत्र पर पड़ा। विश्वविद्यालयों, कॉलेजों और उच्च शिक्षण संस्थानों में नया सत्र जुलाई की जगह नवंबर में शुरू हो पाया।अब अप्रैल-मई में समाप्त होने वाला सत्र जुलाई तक चलेगा। उच्च शिक्षण संस्थानों का रिजल्ट जुलाई से सितंबर के बीच जारी होने से अगला सत्र भी देरी से होगा। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने राज्यों के शिक्षा बोर्ड से 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा का कार्यक्रम मांगा है। इसके बाद सीबीएसई और प्रदेश शिक्षा बोर्ड की परीक्षा और रिजल्ट की रिपोर्ट बनेगी। इसके आधार पर कमेटी अगले सत्र में दाखिले के लिए नया कैलेंडर तैयार करेगी।