किसानों का धरना बंद कराने पर प्रशासन रहा नाकाम

 किसानों का धरना बंद कराने पर प्रशासन रहा नाकाम



विरोध प्रदर्शन के 32 वें दिन नहर कॉलोनी में डटे रहे किसान


फतेहपुर ।केंद्र सरकार के द्वारा लाए गए किसान विरोधी बिल के विरोध प्रदर्शन का आज 32 वा दिन था फतेहपुर प्रशासन द्वारा दमनकारी नीति के चलते किसान आंदोलन को कुचलने का प्रयास किया गया लेकिन आंदोलन कर रहे किसान प्रशासन को पढ़ाया संविधान का पाठ किसान नेता वीरेंद्र सिंह पटेल ने कहा कि लोकतांत्रिक तरीके से हम सत्याग्रह आंदोलन चला रहे हैं लेकिन प्रशासन लगातार इस आंदोलन को दबाने और कुचलने का प्रयास कर रहा है हम किसान हैं किसी भी हालत में लोकतंत्र की हत्या नहीं होने देंगे उसके लिए सड़क से लेकर सदन तक क्यों ना लड़ना पड़े लगातार आंदोलन में साथ दे रहे किसान नेता मनीष पटेल ने कहा कि आज फतेहपुर जनपद का शासन प्रशासन जिस तरीका लोकतंत्र की हत्या करने पर उतारू था वह बहुत ही शर्मनाक है नौजवान कभी भी लोकतंत्र की हत्या नहीं होने देंगे उसके लिए फांसी पर क्यों ना चलना पड़े किसान मजदूर युवा शक्ति के सदस्य सिद्धार्थ एडवोकेट ने कहा कि शांतिपूर्वक आंदोलन को प्रशासन यदि उग्र करना चाहता है तो हम किसान पीछे नहीं हटेंगे जब तक दिल्ली में आंदोलन चलेगा तब तक फतेहपुर में आंदोलन चलता रहेगा उसके लिए कुछ भी करना पड़े इस मौके पर मुख्य रूप से एडवोकेट सस्वत गर्ग सुनील उमराव शुभम सिंह पटेल विक्रम सिंह मोहम्मद आसिफ राजेश जाटव मनजीत लोटन संजय यादव गुलाब सिंह रामकरण सिंह सैलाब सिंह सुशील कालिया धोनी भाई राहुल गौतम रिंकू पटेल एवं सैकड़ों किसान उपस्थित रहे।

Popular posts
सपा नेत्री के नेतृत्व में निकाला गया कैंडल जलूस
इमेज
उम्मेदपुर गांव में गलत तरीके से सरकारी राशन की दुकान आवंटित किए जाने से नाराज सैकड़ों महिलाओं ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन
इमेज
मलवा ब्लाक में CDPO से आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पीड़ित, हो रही अवैध वसूली 
इमेज
हवन पूजन के पश्चात स्थान दूधी कगार शोभन सरकार का मेला शुक्रवार से शुरू
इमेज
विश्व का पहला देश इटली ने कोविड-19 से मृत शरीर का पोस्टमार्टम कराकर पता किया कि शरीर में कोरोना वायरस नहीं है