एक जनपद एक उत्पाद योजना अंतर्गत व्यवसाय के लिए सभी वर्गों को मिलेगा ऋण

 एक जनपद एक उत्पाद योजना अंतर्गत व्यवसाय के लिए सभी वर्गों को मिलेगा ऋण


फतेहपुर।शासन के निर्देश पर जिला उद्योग प्रोत्साहन तथा उद्यमिता विकास केन्द्र अधिकारी एस० सिद्दीकी ने बताया कि "मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत उ0प्र0शासन द्वारा संचालित इस योजनान्तर्गत उद्यमी अपना स्वंय उद्योग/नई इकाई स्थापित कराने हेतु ऋण परक योजना लागू की गयी है। इस योजना के तहत सेवा क्षेत्र के लिये अधिकतम रू0 25.00 लाख की ऋण अनुमन्यता है। अभ्यार्थी को कक्षा हाईस्कूल अथवा उसके समकक्ष शैक्षिक योग्यता एवं आयु 18 से 40 वर्ष अनिवार्य है। योजना में

सभी वर्गों के लिये सब्सिडी 25


प्रतिशत है। विगत वर्षों में अब तक आटा चक्की, ऑयल उद्योग, बैटरी निर्माण, रेडीमेड गारमेन्ट, लकडी फर्नीचर निर्माण, शटरिंग सेवा आदि से सम्बन्धित उत्पादन/सेवा क्षेत्र की इकाइयां स्थापित करायी गयी है। योजनान्र्तगत वर्ष 2020-21 में जनपद को उद्योग विभाग में अभ्यर्थियों के लिये लक्ष्य 59 वित्तीस 114.46

लाख का प्राप्त हुआ है जिसमें बैंको द्वारा 43 लाभार्थियों के सापेक्ष रू0 133.00 लाख की वित्तीय स्वीकृत बैंको के

माध्यम से करायी जा चुकी है।

प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कायक्रम के तहत सेवा क्षेत्र के लिये अधिकतम रू0 10.00 लाख तथा उद्योग क्षेत्र के

ये अधिकतम रू0 25.00 लाख तक का ऋण दिया जाता है सामान्य व्यक्ति शहरी क्षेत्र के लिये 15 प्रतिशत, ग्रामीण

क्षेत्र के लिये 25 प्रतिशत, विशेष वर्ग जैसे-एससी०एसटी ओबीसी महिला, अल्पसंख्यक, भूतपूर्व सैनिक को शहरी क्षेत्र के

लिये 25 प्रतिशत एवं ग्रामीण क्षेत्र के 35 प्रतिशत का अनुदान दिया जाता है। शैक्षिक योग्यता न्यूनतम कक्षा-08 पास

होना अनिवार्य है। वित्तीय वर्ष 2020-21 में जनपद को उद्योग विभाग में अभ्यर्थियों के लिये लक्ष्य 50 वित्तीय 150.00

लाख का प्राप्त हुआ है जिसमें बैंको द्वारा 39 लाभार्थियों के सापेक्ष रू0 219.00 लाख की स्वीकृत बैंको के माध्यम से

करायी जा चुकी है।

“एक जनपद एक उत्पाद (आयरन फैब्रिकेशन एवं बेड सीट) योजनान्तर्गत व्यवसाय, सेवा, उद्योग क्षेत्र में रू0 25

लाख तक का ऋण सभी वर्गों को दिया जाता है जिसमें 25 प्रतिशत की छूट है। रू0 25 से 50 लाख तक 20 प्रतिशत, रू0 50 लाख से एक करोड़ तक 15 प्रतिशत है, से ऊपर ऋण पर अधिकतम रू0 20 लाख तक सब्सिडी

देय है। इस योजना के तहत वित्तीय वर्ष 2020-21 में जनपद को 20 लक्ष्य के सापेक्ष 50 लाख प्राप्त हुआ है जिसमें बैंको द्वारा 18 लाभार्थियों को रू0 76.00 लाख की वित्तीय स्वीकृत बैंको के माध्यम से करायी जा चुकी है।

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना में प्रशिक्षण के उपरान्त लाभार्थी को स्वरोजगार के उपरान्त टूल किट का वितरण किया गया है। वर्ष 2020-21 में 250 लक्ष्य के सापेक्ष शत प्रतिशत वितरित किये गये।एक जनपद एक उत्पाद टूल किट योजना के तहत प्रशिक्षण के उपरान्त 100 लक्ष्य के सापेक्ष शत पतिशत वितरण

किया गया।

Popular posts
क्षेत्रीय भाजपा विधायक करन सिंह पटेल का प्रतिनिधि विपिन पटेल भाजपा की छवि कर रहा है धूमिल।
इमेज
जिला मुख्यालय पर कल जारी होगी पंचायत चुनावों के आरक्षित/अनारक्षित सीटों की सूची
इमेज
उत्तर प्रदेश में होने जा रहे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के आरक्षण सूची जारी की जा रही है फाइनल सूची 15 मार्च को
इमेज
कोतवाली प्रभारी तथा सब इंस्पेक्टर को दी गई भावभीनी विदाई
इमेज
आगामी त्योहारों में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए जनपद में धारा 144 लागू
इमेज