बड़े धूमधाम से मनाई गई गुरु गोविंद सिंह जी की जयंती

 बड़े धूमधाम से मनाई गई गुरु गोविंद सिंह जी की जयंती



फतेहपुर। बड़े धूम-धाम से गुरुद्वारे में मनाई गयी दसवे गुरु गोविन्द सिंह जी की 355 जयंती आज गुरु गोबिंद सिंह जी की 355 वी जयंती है, गुरु गोबिंद सिंह जी की जयंती को प्रकाश पर्व के रुप में मनाया जाता है। सिखों के 10वें गुरु गोबिंद सिंह जी की जयंती देशभर में धूमधाम से मनाई जा रही है। इस दिन घरों और गुरुद्वारों में कीर्तन होता है। खालसा पंत की शोभा यात्रा निकाली जाती हैं, इस दिन खासतौर पर पूरे विश्व भर में कीर्तन का दरबार व लंगर का आयोजन किया जाता है। ज्ञानी गुरुवचन सिंह जी ने बताया गुरु गोबिंद सिंह जी का जन्म पौष माह की शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को 22 दिसम्बर 1666 में पटना साहिब में हुआ था और उनके पिता का नाम गुरु तेग बहादुर और माता का नाम माता गुजरी था। गुरु गोविंद सिंह जी के पिता गुरुतेग बहादुर सिखों के 9 वें गुरु थे। गुरु गोबिंद सिंह जी को बचपन में गोबिंद राय के नाम से बुलाया जाता था। गुरु गोविंद सिंह ने जीवन जीने के पांच सिद्धांत दिए हैं जिन्हें पंच ककार कहा जाता है। ये पांच चीजें हैं- केश, कड़ा, कृपाण, कंघा और कच्छा, और गुरु गोबिंद सिंह जी बेहद ही निडर और बहादुर योद्धा थे। जो उनके बारे में लिखा गया है वो उनकी बहादुरी की गाथा है, लिखा है, ष्सवा लाख से एक लड़ाऊँ चिड़ियों से मैं बाज तड़ऊं तबे गोबिंदसिंह नाम कहाऊं ष्गुरु गोबिंद सिंह जी आध्यात्मिक गुरु होने के साथ ही कवि और दार्शनिक भी थे।

वहीं गुरु गोबिंद सिंह  ने ही खालसा वाणी दी। जिसे ष्वाहेगुरु जी का खालसा वाहेगुरु जी की फतेह कहा जाता है। उन्होंने अपने धर्म की रक्षा के लिए मुगलों से लड़ते हुए पूरे परिवार का बलिदान कर दिया और उनके चारो बेटे बाबा अजीत सिंह,बाबा जुझार सिंह ने चमकौर के युद्ध में शहादत प्राप्त की और जोरावर सिंह व फतेह सिंह को सरहिंद में नीव में चिनवा दिया गया फतेहपुर गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा मे ये कार्यक्रम प्रधान पपिन्दर सिंह की अगुवाई में आयोजित किया गया जिसमें प्रधान  ने बताया कि फतेहपुर में हर साल की तरीके इस साल भी प्रोग्राम बड़ी धूमधाम से कोविड के नियमो का पालन करते हुए मनायी गयी है और रायबरेली से रागी शबद कीर्तन करने फतेहपुर आए और उनका प्रधान पपिंदर सिंह द्वारा सिरोपा देके स्वागत किया गया ,आज गुरुद्वारे में प्रधान पपिन्दर सिंह, ज्ञानी गुरुवचन सिंह वरिंदर सिंह पवि,लाभ सिंह,नरिंदर सिंह,जतिंदर पाल सिंह,गोविंद सिंह, सतपाल सिंह सेठी,सरनपाल सिंह सन्नी,दर्शन सिंह, कुलजीत सिंह, गुरमीत सिंह उमंग,आकाश सिंह,राजू,जसवीर सिंह,ग्रेटी,नवप्रीत सिंह संत सिंह ,लक्की,रौनक ,तरन ,अर्शित व महिलाओ में हरजीत कौर ,हरविंदर कौर ,जसपाल कौर,मनजीत कौर, हरमीत कौर ,गुरप्रीत कौर ,जसवीर कौर शीनू,सिमरन,सुखमनी,वरिंदर कौर,खुशी,आदि उपस्थित रहे ।

Popular posts
सपा नेत्री के नेतृत्व में निकाला गया कैंडल जलूस
इमेज
उम्मेदपुर गांव में गलत तरीके से सरकारी राशन की दुकान आवंटित किए जाने से नाराज सैकड़ों महिलाओं ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन
इमेज
मलवा ब्लाक में CDPO से आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पीड़ित, हो रही अवैध वसूली 
इमेज
हवन पूजन के पश्चात स्थान दूधी कगार शोभन सरकार का मेला शुक्रवार से शुरू
इमेज
विश्व का पहला देश इटली ने कोविड-19 से मृत शरीर का पोस्टमार्टम कराकर पता किया कि शरीर में कोरोना वायरस नहीं है