प्रदेश की योगी सरकार का दावा- उत्तर प्रदेश में 97 फीसद से अधिक हो चुका गन्ना किसानों का बकाया भुगतान

 प्रदेश की योगी सरकार का दावा- उत्तर प्रदेश में 97 फीसद से अधिक हो चुका गन्ना किसानों का बकाया भुगतान



न्यूज़।उत्तर प्रदेश किसानों के लिए कड़वे हुए गन्‍ने की मिठास अब लौट आई है। योगी सरकार ने गन्ना मूल्य भुगतान, गन्ने के प्रति हेक्टेयर उत्पादन,चीनी परता और कोरोना काल में सभी चीनी मिलों के संचलन व सैनिटाइजर के उत्पादन का रिकॉर्ड बनाया है। हाल में जारी गन्ना विभाग के आंकड़ों के मुताबिक अब तक गन्ना बकाए का 97.07 फीसद 34847.60 करोड़ रुपये का भुगतान किसानों को हो चुका है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का साफ निर्देश है कि जब तक खेत में किसानों का गन्ना है तब तक उस क्षेत्र की मिल को चलना चाहिए।उत्तर प्रदेश में गन्ना किसानों की बड़ी संख्या के नाते राजनीतिक रूप से यह बेहद संवेदनशील फसल है। गन्ना मूल्य के बकाये से लेकर पेराई न होना आदि बड़ा मुद्दा बन जाता है। मार्च, 2017 में योगी सरकार के आने के पहले बकाया बड़ा मुद्दा था। योगी सरकार ने आने के साथ ही पहला फोकस बकाये के भुगतान पर किया और रिकॉर्ड भुगतान भी किया। इसके साथ ही सरकार ने सबसे ज्‍यादा जोर पुरानी मिलों के आधुनिकीकरण और नई मिलों की स्थापना पर दिया। इस क्रम में करीब दो दर्जन मिलों की क्षमता बढ़ायी गई। गोरखपुर के पिपराइच, बस्ती के मुंडेरा और बागपत के रमाला में अत्याधुनिक और अधिक क्षमता की नई मिलें लगायी गईं।

Popular posts
चार माह बीतने के बाद भी दलित महिला प्रधान को नहीं मिला चार्ज
चित्र
दिल्ली के निर्भया कांड में आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने वाली देश की चर्चित अधिवक्ता सीमा समृद्धि लड़े गीं कानपुर की निर्भया का केस
चित्र
प्यार दे कर जो हमें विदा हुए संसार से,
चित्र
प्रदेश में अंत्योदय कार्ड धारकों को 3 किलो चीनी भी मिलेगी, 3 महीने का एक साथ 30 सितंबर तक होगा वितरण
चित्र
चलो कुछ दूर चलते हैं,
चित्र