कमजोरी कोरोना मरीजों के लिए जानलेवा साबित हो सकती हैं

 कमजोरी कोरोना मरीजों के लिए जानलेवा साबित हो सकती हैं


 

न्यूज़।कोरोना मरीजों के लिए कमजोरी जानलेवा हो सकती है। यह शोध 'एज एंड एजिंग' नामक जर्नल में प्रकाशित हुआ है।गंभीर कमजोरी से ग्रस्त कोरोना मरीजों के मरने की संभावना सेहतमंद व्यक्ति की तुलना में तीन गुना अधिक होती है।भले ही मरीज की उम्र कम कुछ भी हो। अध्ययन से यह भी पता चला है कि गंभीर कमजोरी से ग्रस्त गैर कोरोना मरीजों को घरों में देखभाल की आवश्यकता सात गुना अधिक होती है।बर्मिंघम विश्वविद्यालय के नेतृत्व में किए गए शोध में 12 देशों के 55 अस्पतालों में भर्ती 5,711 रोगियों को शामिल किया गया। शोध में प्रमुख निभाने वाले जेरिएट्रिक मेडिसिन रिसर्च कोलैबोरेटिव ने अध्ययन के बाद स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतरी का सुझाव दिया है।अध्ययन के मुताबिक कमजोर ऐसी स्थिति है जब शरीर के बीमारी के चुंगल में आने की अधिक संभावना होती है।

Popular posts
चार माह बीतने के बाद भी दलित महिला प्रधान को नहीं मिला चार्ज
चित्र
योगी सरकार ने छात्रवृत्ति का बदला नियम, जानिए पैसे लेने के लिए करना होगा क्या नया काम
चित्र
दिल्ली के निर्भया कांड में आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने वाली देश की चर्चित अधिवक्ता सीमा समृद्धि लड़े गीं कानपुर की निर्भया का केस
चित्र
प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी युगल हुए एक दूजे के
चित्र
प्यार दे कर जो हमें विदा हुए संसार से,
चित्र