एक से तीन मार्च तक पीएम किसान समाधान दिवस का होगा आयोजन

 एक  से तीन मार्च तक पीएम किसान समाधान दिवस का होगा आयोजन



फतेहपुर।जिलाधिकारी श्रीमती अपूर्वा दुबे ने अवगत कराया है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना अंतर्गत दिनांक 01 मार्च 2021 से 03 मार्च 2021 तक पीएम-किसान समाधान दिवस का आयोजन करने के निर्देश दिए गए हैं, योजना अंतर्गत आधार ऑथेंटिकेशन अनिवार्य हो जाने के कारण भारी संख्या में ऐसे किसानों जिनका आधार संख्या इनवेलिड है अथवा आधार कार्ड में उल्लिखित नाम के अनुरूप डाटाबेस में नाम नहीं फीड हुआ है, उनकी किसान सम्मान निधि की आगामी किस्तों का भुगतान भारत सरकार द्वारा रोक दिया गया है । ऐसे प्रकरणों के समाधान के लिए  pmkisan.gov.in पर ओपन सोर्स से आधार संख्या तथा आधार के अनुसार नाम सुधार की व्यवस्था दी गई है । किंतु अभी भी काफी संख्या में किसान ऐसे हैं जिनका डाटा सुधार नहीं हो सका है ऐसे लंबित प्रकरणों के शीघ्र निस्तारण के लिए दिनांक 01 मार्च 2021 से 03 मार्च 2021 तक पीएम किसान समाधान दिवस आयोजित करने का निर्णय लिया गया है । इस समाधान दिवस को सफल बनाने के लिए निम्न कार्यवाही की जाएगी-

जनपद के प्रत्येक न्याय पंचायत के अंतर्गत समस्त ग्राम पंचायतों में क्षेत्रीय कार्मिकों के माध्यम से व्यापक प्रचार प्रसार किया जाए कि जिन किसानों का आधार नंबर गलत होने के कारण अथवा आधार के अनुसार नाम सही नहीं होने के कारण प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ नहीं मिल रहा है वह किसान दिनांक 01 मार्च 2021 से 03 मार्च 2021 तक कार्यालय अवधि में अपने विकासखंड के राजकीय कृषि बीज भंडार पर अपने आधार कार्ड /बैंक पासबुक के साथ पहुंचे और अपना डाटा ठीक कराएं ।

जिन किसानों को योजना की कम से कम एक किस्त प्राप्त हो रही है किंतु उनका आधार संख्या या नाम त्रुटिपूर्ण है तो ऐसे किसानों का विवरण संबंधित बैंक से प्राप्त करते हुए उनका शत-प्रतिशत सत्यापन कराते हैं उनका डाटा दुरुस्त कराया जाए । 

यह समाधान मुख्य रूप से इनवेलिड आधार तथा आधार के अनुसार नाम सही कराने के लिए आयोजित किया जा रहा है । किंतु इसके अतिरिक्त अन्य समस्या को लेकर किसान विकास खंड पर पहुंचता है तो उसका भी यथोचित उत्तर /समाधान दिवस में दिया जाए। क्षेत्रीय कर्मचारी यथा-राजस्व लेखपाल, ग्राम पंचायत अधिकारी, प्राविधिक सहायक ग्रुप सी, एटीएम, बीटीएम, सहायक विकास अधिकारी (कृषि/कृषि रक्षा) एवं ग्राम विकास अधिकारी अपने क्षेत्र के समस्त कृषक जो लाभ से वंचित रह गए हैं को कैंप के माध्यम से लाभान्वित कराने हेतु व्यापक प्रचार-प्रसार कराएंगे । इस कार्य को खंड विकास अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी ,उप संभागीय कृषि प्रसार अधिकारी ,जिला कृषि रक्षा अधिकारी एवं तहसीलदार अपने अधीनस्थ कर्मचारियों के माध्यम से सुनिश्चित कराएंगे ।

विकासखंड स्तर पर एक पंजिका संबंधित कार्मिक द्वारा बनाई जाएगी जिसमें सभी प्रकरणों का अंकन कर उसका किया गया समाधान पंजिका में दर्ज किया जाएगा और उस पंजिका में संबंधित कृषक के हस्ताक्षर भी करवाए जाएंगे । कृषक द्वारा प्रस्तुत किए गए अभिलेखों को वर्गीकृत रूप से क्रमबद्ध करते हुए सुरक्षित रखा जाएगा ताकि कृषक को भविष्य में पुनः अभिलेख जमा करने की आवश्यकता ना पड़े । इस कार्य हेतु विकासखंड वार कार्यक्रम के सफल आयोजन हेतु नामांकन निम्न प्रकार से किया जाएगा -

राजकीय कृषि बीज भंडार  गाजीपुर, राजकीय कृषि बीज भंडार तेलियानी, भिटौरा, बहुआ, हसवां,  अमौली, मलवां, बकेवर , बिंदकी, खखरेरू, धाता एवं हथगाम में ठीक किया जाएगा ।

जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों/ कर्मचारियों को निर्देशित किया है कि आपस में समन्वय स्थापित कर किसानों के मध्य व्यापक प्रचार प्रसार करते हुए कार्यक्रम को सफलतापूर्वक आयोजन कराना सुनिश्चित करें । इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता न बरती जाए । संबंधित पर्यवेक्षीय अधिकारी सूचना उप कृषि निदेशक फतेहपुर को प्रत्येक दिवस उपलब्ध कराएंगे जो कि संकलित रूप से मेरे (जिलाधिकारी) समक्ष प्रस्तुत की जाएगी।

Popular posts
योगी की नही विद्युत वितरण खंड प्रथम में चल रही है सपा मानसिकता के रामसनेही की सरकार
चित्र
14 साल की नाबालिग का थाने में हुआ प्रसव:
चित्र
भ्रष्ट अधिशासी अभियंता के रहते नहीं हो सकता है योगी सरकार का सपना साकार- तिवारी
चित्र
डीएम अपूर्वा दुबे का प्रयास लाया रंग, कोरोना केसों से मुक्त हुआ दोआबा – तीन दिनों से नया केस न मिलने से अफसरो ने ली राहत की सांस
चित्र
अगर आता है आपको भी बार-बार पेशाब, तो समझ लीजिए कि शरीर में पनप रही है ये बीमारियां
चित्र