विश्व हिंदू परिषद के नए केंद्रीय अध्यक्ष बने पद्मश्री R. N. सिंह

 विश्व हिंदू परिषद के नए केंद्रीय अध्यक्ष बने पद्मश्री R. N. सिंह



न्यूज़।विश्व हिंदू परिषद की केंद्रीय प्रबंध समिति व प्रन्यासी मंडल की दो दिवसीय बैठक के पहले दिन संगठन में कई बदलाव किए गए। केंद्रीय उपाध्यक्ष पद्मश्री रवींद्र नारायण सिंह को केंद्रीय अध्यक्ष बनाया गया वहीं मिंलिद परांडे फिर से केंद्रीय महामंत्री चुने गए। डा. सिंह बिहार के रहने वाले हैं। आलोक कुमार कार्यकारी अध्यक्ष और चंपत राय केंद्रीय उपाध्यक्ष बने रहेंगे। इसके साथ ही कईं सचिवों के दायित्व में परिवर्तन किया गया। केंद्रीय उपाध्यक्ष जगन्नाथ शाही अब केंद्रीय सत्संग और धर्माचार्य टोली में रहेंगे। पूर्व न्यायाधीश विष्णु नारायण कोकजे भी केंद्रीय टोली के सदस्य रहेंगे।

उल्लेखनीय है कि विहिप में प्रत्येक तीन वर्ष पर चुनाव होते हैं। यह बैठक शनिवार से हरियाणा के फरीदाबाद में प्रारंभ हुई है। देश भर के लगभग 275 विहिप पदाधिकारी भाग ले रहे हैं। इस बैठक में मतांतरण के विरुद्ध केंद्रीय कानून, मठ-मंदिरों की सरकारी नियंत्रण से मुक्ति, बंगाल में हुई हिंसा तथा कोरोना की तीसरी लहर की पूर्व तैयारी के अतिरिक्त संगठन के षष्टि-पूर्ति वर्ष व संगठन विस्तार के विषय में व्यापक चर्चा हो रही है।

बैठक में आरएसएस के पूर्व सरकार्यवाहक भय्याजी जोशी, विश्व हिंदू परिषद के अध्यक्ष पूर्व न्यायाधीश विष्णु सदाशिव कोकजे, कार्याध्यक्ष सीनियर एडवोकेट आलोक कुमार व कार्याध्यक्ष (विदेश) अशोक राव चौगुले, उपाध्यक्ष गंगराजू, ओम प्रकाश सिंहल, डॉ आर एन सिंह व हुक्म चंद सांवला तथा कोषाध्यक्ष रमेश गुप्ता सहित सभी केंद्रीय व क्षेत्रीय पदाधिकारी भाग ले रहे हैं। यह हरियाणा के फरीदाबाद सेक्टर 43 स्थित मानव रचना शैक्षणिक संस्थान में चल रही है। देश-विदेश के शेष पदाधिकारी ऑनलाइन माध्यम से जुड़ें हैं। यह बैठक हर छः मास में बुलाई जाती है।

Popular posts
योगी की नही विद्युत वितरण खंड प्रथम में चल रही है सपा मानसिकता के रामसनेही की सरकार
चित्र
14 साल की नाबालिग का थाने में हुआ प्रसव:
चित्र
भ्रष्ट अधिशासी अभियंता के रहते नहीं हो सकता है योगी सरकार का सपना साकार- तिवारी
चित्र
अगर आता है आपको भी बार-बार पेशाब, तो समझ लीजिए कि शरीर में पनप रही है ये बीमारियां
चित्र
आज हम बात करेंगे फूलन देवी के सहादत दिवस के अवसर पर बात करेंगे कि फुलवा से कैसे फूलन बनी फूलन देवी का विस्तृत परिचय
चित्र