फैक्ट्री मालिक की लापरवाही ने ली गरीब के मवेशी की जान

 फैक्ट्री मालिक की लापरवाही ने ली गरीब के मवेशी की जान



बिना टिन नंबर चलाई जा रही फैक्ट्री की लापरवाही पर हुआ हादसा


नियामतः फैक्ट्री के बाहर बैटरी का नाम उपलब्ध नहीं


खुले में ट्रांसफार्मर से जमीन पर उतार दिया था करंट



फतेहपुर।अमीर के घर में बैठा कौवा भी मोर लगता है, गरीब का भूखा बच्चा भी सबको चोर लगता है" यही कहावत चरितार्थ होती हुई दिखाई दे रही जनपद फतेहपुर के मलवा थाना क्षेत्र में जहां एक रईस की रईसी का शिकार एक गरीब का मवेशी हो गया।

मालवा थाना क्षेत्र के ग्राम साहिबा पुर में रहने वाले एक गरीब का मवेशी करंट की चपेट में आ गया एवं मौके पर ही उसकी जान चली गई।

पीड़ित अनुसार गांव के ही समीप फैक्ट्री एरिया के पास जानवर चर रहे थे। तथाकथित एक बैटरी फैक्ट्री के सामने खुले में ट्रांसफार्मर से अर्थिंग बनाकर जमीन में करंट उतार दिया गया था। चरते- चरते जानवर जैसे ही अर्थिंग के पास पहुंचा उसकी दर्दनाक मौत हो गई।

पीड़ित ने 112 में शिकायत दर्ज कराई मौके पर पुलिस भी आई परंतु रईसों की साख के चलते अभी तक  कृत कार्यवाही 0 है जबकि फैक्ट्री मालिक अभी तक अपने निवास में आराम से मौज कर रहा है।

पीड़ित ने बताया की मौके पर पुलिस आई तो परंतु फैक्ट्री के अंदर गई फिर दोबारा बाहर आई उसके बाद पुलिस के स्वर ही बदल गए उल्टा पीड़ित को ही मुकदमे में फंसाने की धमकी देकर मामले को रफा-दफा करने का दबाव बनाने लगे।

फैक्ट्री एरिया में नियमानुसार फैक्ट्री का नाम, टिन नंबर, जीएसटी नंबर आदि की जानकारी बाहर बोर्ड पर लिखवाया जाना चाहिए परंतु ऐसा कुछ भी मौके पर नहीं मिला। फैक्ट्री में कूड़ा आदि फेंकने की व्यवस्था भी साफ सुथरी नहीं दिखाई दी।

क्या जाने इस फैक्ट्री का रजिस्ट्रेशन है या नही।

अब देखने वाली बात यह होगी कि उपरोक्त फैक्ट्री मालिक या बिजली विभाग कर्मचारियों पर किस प्रकार की कार्यवाही होती है।

Popular posts
बुंदेलखंड जन अधिकार पार्टी ने जिलाध्यक्ष हनुमान प्रसाद दास राजपूत को विधानसभा बांदा सदर से प्रत्याशी किया घोषित,
चित्र
उत्तर प्रदेश फ्री स्मार्ट फोन और टैबलेट योजना 2021: इंतजार खत्म, योगी सरकार इसी माह से करेगी वितरण
चित्र
राजस्व वसूली एवं सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न करने वाले के विरुद्ध दर्ज हुई एफ आई आर
चित्र
दूल्हे के शराब पीने से दुल्हन ने तोड़ी शादी, कहा-शराबी के साथ पूरी ज़िंदगी नहीं गुजार सकती
चित्र
कान्हा गौशाला मलाका में प्रथम नेत्र चिकित्सा शिविर का हुआ आयोजन
चित्र