बच्चे की मौत के बाद परिजनों ने काटा हंगामा

 बच्चे की मौत के बाद परिजनों ने काटा हंगामा



फतेहपुर सदर कोतवाली क्षेत्र के लोधी गंज स्थित एक नर्सिंग होम में भर्ती  महिला की हालत बिगड़ने के बाद नर्सिंग होम संचालकों ने हाथ पैर खड़ा कर दिए। सूत्रों की मानें जब परिजनों ने हंगामा काटना शुरू कर दिया तो आनन-फानन में एक एंबुलेंस से उसे कानपुर के एक प्राइवेट नर्सिंग होम में ले जाया गया। सूत्र बताते हैं की महर्षि विद्या मंदिर के पास स्थित काशीराम कॉलोनी कि पीड़िता को डिलीवरी होनी थी। जिसे इस नर्सिंग होम की संरक्षिका जो पहले जिला अस्पताल में नर्स के पद पर कार्य कर चुकी है और इसके बाद कई बदल-बदल कर प्राइवेट नर्सिंग होम में अपना पव बारह करने का काम करती है। उसी के संरक्षण में इस नर्सिंग होम में महिला का इलाज शुरू हुआ। लेकिन सूत्रों की माने महिला के शरीर में खून की कमी होने के चलते महिला की हालत बिगड़ने लगी और और महिला के तीमारदारों की मानें तो बच्चे की मौत के बाद  जब परिजनों ने हंगामा काटना शुरू किया तो नर्सिंग होम संचालकों के होश गुम हो गए। हालांकि सूत्र यह भी बताते हैं की खुद इस नर्सिंग होम की संरक्षिका मरीज को एंबुलेंस में लेकर कानपुर भर्ती कराने के लिए गई और लगातार देर शाम तक सेटिंग और समझौते का दौर शुरू रहा जो देर शाम तक जारी रहा। बड़ी बात यह है कि कई बार इस तरीके के केस सामने आए हैं लेकिन इन केसों से ना तो स्वास्थ्य विभाग कोई कार्रवाई करता है और ना ही यह बिना मानक के संचालित नर्सिंग होम के संचालक कुछ सीख लेते हैं और कुछ दिन व्यतीत होने के बाद फिर से उसी प्रकार यह लोग अपने काम को अंजाम देने में जुट जाते हैं। आखिरी आंसू टीम जिला प्रशासन से यह अपील करता है ऐसे तथाकथित नर्सिंग होम संचालकों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करें ताकि बेवजह गरीब लाचार मरीजों की जान बचाई जा सके।

टिप्पणियाँ
Popular posts
कार ने हाइवे पार कर रही महिलाओं को कुचला, चार की मौत
चित्र
चुनाव ड्यूटी में आये हरदोई का रहने वाला होमगार्ड की बिगड़ी तबियत डॉक्टर ने किया मृत घोषित
चित्र
स्ट्रांग रूम में रखे ईवीएम मशीन के सुरक्षा व्यवस्था का एसपी ने लिया जायजा
चित्र
बडौरी टोल प्लाजा में अधिवक्ता के साथ हुई लूट के साथ गुंडई करते हुए जान से मारने की धमकी दी
चित्र
विश्वकर्मा समाज से सपा गठबंधन के पक्ष मांगे वोट-रामासरे विश्वकर्मा
चित्र