खजुहा ब्लाक के प्रधानाध्यापकों की बैठक में शिक्षकों को कराया गया दायित्व बोध

 विश्व साक्षरता दिवस

खजुहा ब्लाक के प्रधानाध्यापकों की बैठक में शिक्षकों को कराया गया दायित्व बोध



 बिंदकी फतेहपुर

विश्व साक्षरता दिवस पर बेसिक शिक्षा विभाग ब्लॉक खजुहा के समस्त प्रधानाध्यपकों की बैठक रामपाल विटाना देवी महाविद्यालय में नजरुद्दीन अहमद,उप शिक्षा निदेशक डायट फतेहपुर की अध्यक्षता में आयोजित की गई  जिसमें निदेशक महोदय ने खजुहा के  विद्यालयों में उत्कृष्ट कार्य करने  वाले 25 शिक्षकों को सम्मानित करते हुए उनके कार्यों व दायित्यों का बोध करते हुए बताया कि प्रत्येक शिक्षक का सर्वोच्च पुरस्कार उनके अपने छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देकर देश का जिम्मेदार नागरिक बनाना  होता है उन्होंने कहा कि 1951 में देश की साक्षरता 18% से 2011 की जनगणना के अनुसार 74% शिक्षकों द्वारा अपने दायित्वों का निर्वहन करने के कारण हो पाई और इसे अब विश्व साक्षरता 86% तक जल्द पहुँचाने की शिक्षकों से अपील की।बैठक को डायट मेंटर संजीव सिंह व srg राधेश्याम दीक्षित जी ने मिशन प्रेरणा के विभिन्न घटकों पर विस्तार से चर्चा करते हुए लक्षित उद्देश्यों को समय से पूरा कराकर खजुहा ब्लॉक को निर्धारित अवधि  मार्च 2022 तक प्रेरक ब्लॉक बनाने हेतु सुझाव दिए।बैठक में शिक्षिका अर्चना अरोड़ा ने बुजुर्गों के आंतरिक व्यथा पर आधारित अपनी रिपोतार्ज पुस्तक "कोरोनानामा" निदेशक महोदय व अनीता शाह ,खंड शिक्षा अधिकारी  खजुहा को भेंट की।बैठक को सम्बोधित करते हुए अनीता शाह ने ब्लॉक के सभी शिक्षकों से कायाकल्प के सभी 19 पैरामीटर्स व ध्यानाकर्षण मॉड्यूल्स के अनुसार शिक्षण कार्य कोविड 19 प्रोटोकॉल का अनुपालन करते हुए करने सभी शिक्षकों को निर्देश दिया।बैठक में सभी एआरपी सुधीर शुक्ला,अमरपाल सिंह ब्लॉक अध्यक्ष बलराम सिंह,मंत्री मुनेश्वर सिंह सहित ब्लॉक के समस्त प्रधानाध्यपकों ने प्रतिभाग किया।

Popular posts
पाल समुदायिक उत्थान समिति एवं राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग मोर्चा के तत्वाधान में सम्मेलन संपन्न
चित्र
चार माह बीतने के बाद भी दलित महिला प्रधान को नहीं मिला चार्ज
चित्र
मुंबई में धमाल मचा रहे हैं फतेहपुर के शिवार्थ श्रीवास्तव
चित्र
उत्तर प्रदेश के युवाओं के लिए रोजगार का सुनहरा मौका, चार अक्टूबर को हर जिले में लगेगा अप्रेंटिसशिप मेला
चित्र
प्यार दे कर जो हमें विदा हुए संसार से,
चित्र