तेलियानी ब्लॉक परिसर में राजस्थान कैडर की 2020 बैच की आईएएस अधिकारी का किया गया सम्मान

 तेलियानी ब्लॉक परिसर में राजस्थान कैडर की 2020 बैच की आईएएस अधिकारी का किया गया सम्मान



फतेहपुर। तेलियानी ब्लॉक परिसर में राजस्थान कैडर की 2020 बैच की आईएएस अधिकारी गुंजन सिंह का सम्मान समारोह आयोजित किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के तौर पर बिंदकी विधायक करण सिंह पटेल ने भाग लिया और बुके देकर गुंजन सिंह का अभिनंदन किया।इस अवसर पर आईएएस गुंजन सिंह ने बताया की 2020 की सिविल सर्विसेज परीक्षा में उनकी सोलहवीं रैंक है और इस समय वह राजस्थान के शिहार में उनकी ट्रेनिंग चल रही है। उन्होंने कहा यह सफलता उन्हें तीसरी बार में मिली है।इस दौरान उन्होंने कहा कि कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती लिहाजा उन्होंने भी कोशिश किया और उन्हें सफलता मिली है। कानपुर की रहने वाली गुंजन सिंह फतेहपुर जनपद में भारतीय स्टेट बैंक में मैनेजर के पद पर रही प्रीति सचान व उनके पति उपमंडल अभियंता उपेंद्र कटिहार की भांजी है और उनका फतेहपुर से बेहद लगाव रहा है। पहले भी वह यहां आ चुकी है। लिहाजा तेलियानी ब्लॉक परिसर में विधायक के हाथों सम्मान पाकर उन्हें गर्व हो रहा है।इस अवसर पर तेलियानी ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि अभिषेक त्रिवेदी, भाजपा नेता अन्नू श्रीवास्तव, अभिषेक शुक्ला, श्याम तिवारी, ओम मिश्रा सहित तमाम लोगों ने उन्हें पुष्पगुच्छ भेंट कर उनका स्वागत किया। इस अवसर पर बिंदकी विधायक करण सिंह पटेल ने कहा कि गुंजन सिंह भले ही तीसरी बार में आईएएस ऑफिसर बनी हो। लेकिन आज के तमाम प्रतियोगी परीक्षा में बैठ रहे युवक-युवतियों को वह यह संदेश देती है कि अगर सच्ची लगन और मेहनत से कार्य किया जाए तो सफलता जरूर मिलती है और इस बात को गुंजन सिंह ने चरितार्थ किया है। इस अवसर पर बिंदकी विधायक करण सिंह पटेल ने उन्हें ईमानदारी से कार्य करने व भविष्य में फतेहपुर में भी जिला अधिकारी बनकर आने की शुभकामनाएं दिया।

Popular posts
बुंदेलखंड जन अधिकार पार्टी ने जिलाध्यक्ष हनुमान प्रसाद दास राजपूत को विधानसभा बांदा सदर से प्रत्याशी किया घोषित,
चित्र
उत्तर प्रदेश फ्री स्मार्ट फोन और टैबलेट योजना 2021: इंतजार खत्म, योगी सरकार इसी माह से करेगी वितरण
चित्र
राजस्व वसूली एवं सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न करने वाले के विरुद्ध दर्ज हुई एफ आई आर
चित्र
दूल्हे के शराब पीने से दुल्हन ने तोड़ी शादी, कहा-शराबी के साथ पूरी ज़िंदगी नहीं गुजार सकती
चित्र
कान्हा गौशाला मलाका में प्रथम नेत्र चिकित्सा शिविर का हुआ आयोजन
चित्र