सीसीआइ की रिपोर्ट में हुआ खुलासा,आम ग्राहकों से 25-70 प्रतिशत तक का लाभ वसूल रहीं दवा कंपनियां

 सीसीआइ की रिपोर्ट में हुआ खुलासा,आम ग्राहकों से 25-70 प्रतिशत तक का लाभ वसूल रहीं दवा कंपनियां



न्यूज़।फार्मा सेक्टर में दवा की निर्माण लागत से लेकर बिक्री कीमत में भारी अंतर होने का अंजाम आम ग्राहकों को भुगतना पड़ रहा है।ग्राहकों से सामान्य तौर पर 25 से 70 प्रतिशत तक का लाभ वसूला जाता है।वहीं बाजार में तीन प्रतिशत ऐसी दवाइयां बिक रही हैं जिन्हें बनाने में किसी नियम का पालन नहीं किया गया है।आम आदमी को सही कीमत पर वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने वाली केंद्रीय एजेंसी भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआइ) की रिपोर्ट में इन पहलुओं को उजागर किया गया है।आयोग ने फार्मा सेक्टर के बारे में जानकारी जुटाने के लिए इस रिपोर्ट को तैयार किया है।आयोग ने कहा है कि आम लोगों को सस्ती दवा उपलब्ध कराने के लिए फार्मा सेक्टर में दवा निर्माण के निर्धारित मानदंड के साथ-साथ लाइसेंस देने व अन्य नियमों के पालन में पारदर्शिता की जरूरत है।वहीं एक नेशनल डिजिटल ड्रग डाटा बैंक बनाने के साथ पूरी सप्लाई चेन की गुणवत्ता को सुनिश्चित करना होगा।आयोग का कहना है कि 17.7 प्रतिशत फार्मा बाजार नियामक के तहत काम करता है,लेकिन दवा तक आम लोगों की पहुंच के लिए बाकी के बाजार में प्रतिस्पर्धा की जरूरत है।क्योंकि भारत में लोग इलाज पर जो खर्च करते हैं उनमें से 62 प्रतिशत वे अपनी क्षमता से बाहर जाकर करते हैं।एक ही दवा की कीमत में आसमान-जमीन का अंतर सीसीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक एक ही फार्मुलेशन की दवा को अलग-अलग ब्रांड नाम से बेचा जाता है और उसकी कीमत में जमीन-आसमान का अंतर होता है।

Popular posts
बुंदेलखंड जन अधिकार पार्टी ने जिलाध्यक्ष हनुमान प्रसाद दास राजपूत को विधानसभा बांदा सदर से प्रत्याशी किया घोषित,
चित्र
उत्तर प्रदेश फ्री स्मार्ट फोन और टैबलेट योजना 2021: इंतजार खत्म, योगी सरकार इसी माह से करेगी वितरण
चित्र
राजस्व वसूली एवं सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न करने वाले के विरुद्ध दर्ज हुई एफ आई आर
चित्र
दूल्हे के शराब पीने से दुल्हन ने तोड़ी शादी, कहा-शराबी के साथ पूरी ज़िंदगी नहीं गुजार सकती
चित्र
कान्हा गौशाला मलाका में प्रथम नेत्र चिकित्सा शिविर का हुआ आयोजन
चित्र