आउटसोर्सिंग के माध्यम से कार्य कर रहे विद्युत संविदा कर्मचारियों ने अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार करने के लिए किया धरना प्रदर्शन

 आउटसोर्सिंग के माध्यम से कार्य कर रहे विद्युत संविदा कर्मचारियों ने अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार करने के लिए किया धरना प्रदर्शन



फतेहपुर।प्रदेश कार्यकारिणी के आदेश अनुसार जनपद फतेहपुर के संविदा विद्युत कर्मियों ने अधीक्षण अभियंता कार्यालय में अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार करने के लिए धरना प्रदर्शन किया अपनी मांगों को लेकर उन्होंने कहा कि गस्टरील व्यस्था को तहत समायोजित कर विभाग से वेतन दिया जाये इसके अलावा समान कार्य का समान वेतन दिया जाये/मंहगाई के दृष्टिगत अकुशल कर्मचारियों को रू0 18000/- व कुशल कर्मचारियों को रू0 24000/- का अनुबन्ध सविदाकारों के बजाय सीधे कर्मचारियों से किया जाय। टेकेदारों/संविदाकारों द्वारा ई०पीएफ० गई०एस०आई० में किये गये घोटाले की जांच करायी जाये।कार्य के दौरान दुर्घटना के शिकार घायल कर्मचारियों की कैशलेस उपवार कराने की व्यवस्था की जाय।दुर्घटना में मृत्यु संविदा कर्मचारियों के परिजनों को दुर्घटना हित लाभ के रूप में रू0 10 लाख की अनुग्रह धनराशि उसके आश्रित/आश्रितों की दी जाये।कार्य के दौरान दुर्घटना के शिकार कर्मचारियों की जांच करायी जाये।पर्याप्त सुरक्षा उपकरण दिया जाये।छ. संविदा कर्मचारियों के भविष्य निधि खाते की केवाई0सी0 करायी जाये।विभाग में नियमित भर्ती के समय पूर्व से कार्य कर रहे आउटसोर्स कर्मचारियों को अनुभव के आधार पर 50 प्रतिशत का आरक्षण निर्धारित किया जाय।कम्पनियों द्वारा 55 वर्ष की आयु को आधार मानकर कार्य से हटा जान पर रोक लगाते हुये कार्य की आयु अवधि 2 वर्ष निर्धारित की जाये। आउटसोर्सिंग कर्मचारियों के बिजली का विभागीय कनेक्सन दिया जाय या 200 यूनिट तक बिजली बिल में दूट प्रदान की जाय। आउटसोर्सिंग कर्मचारियों को रू0 500/- मोवाईल भत्ता व रुपया 1000/-पेट्रोल भत्ता दिया जाय।लाइन का कार्य कर रहे कर्मचारियों को कुशल कर्मचारी का वेतन दिया जाय।

Popular posts
बुंदेलखंड जन अधिकार पार्टी ने जिलाध्यक्ष हनुमान प्रसाद दास राजपूत को विधानसभा बांदा सदर से प्रत्याशी किया घोषित,
चित्र
उत्तर प्रदेश फ्री स्मार्ट फोन और टैबलेट योजना 2021: इंतजार खत्म, योगी सरकार इसी माह से करेगी वितरण
चित्र
राजस्व वसूली एवं सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न करने वाले के विरुद्ध दर्ज हुई एफ आई आर
चित्र
दूल्हे के शराब पीने से दुल्हन ने तोड़ी शादी, कहा-शराबी के साथ पूरी ज़िंदगी नहीं गुजार सकती
चित्र
कान्हा गौशाला मलाका में प्रथम नेत्र चिकित्सा शिविर का हुआ आयोजन
चित्र