कोविड अनुरूप व्यवहार अपनाकर बढ़ाएं त्योहारों की खुशियां

 कोविड अनुरूप व्यवहार अपनाकर बढ़ाएं त्योहारों की खुशियां




संवाददाता बाँदा :- कोरोना कम हुआ है न कि अभी ख़त्म हुआ, इसलिए रहें सतर्क 

दुकानदार भी अपने साथ दूसरों का रखें ख्याल और मास्क लगाएं 

पटाखों से दूरी सेहत के लिए है बहुत जरूरी 

बेहतर स्वास्थ्य, सुख और समृद्धि की कामना के लिए मनाये जाने वाले त्योहार धनतेरस, दीपावली, भाई दूज व छठ पूजा की खुशियां बरक़रार रखने के लिए जरूरी है कि अब भी हर कोई हर कदम पर कोरोना को लेकर पूरी सावधानी बरते। कोविड टीकाकरण नहीं कराएं हैं तो खुद के साथ घर-परिवार को सुरक्षित बनाने के लिए जल्द से जल्द टीका अवश्य लगवा लें। यब बातें मुख्य चिकित्साधिकारी डा. वीके तिवारी ने कहीं। 

उनका कहना है कि धनतेरस और दीपावली के साथ ही छठ पूजा की खरीददारी के लिए बाजार में अच्छी खासी भीड़ देखी जा सकती है। ऐसे में हर किसी को यह याद रखना है कि अभी कोरोना ख़त्म नहीं हुआ है, इसलिए इन प्रमुख त्योहारों की खुशियां बरक़रार रखने के लिए उन जरूरी बातों का जरूर ख्याल रखें जो कोरोना से सुरक्षित बनाने के लिए आवश्यक हैं। बाजार में खरीददारी के वक्त मास्क से मुंह व नाक अच्छी तरह से ढककर रखना है, एक दूसरे से उचित दूरी बनाकर रखना है, दुकान में प्रवेश करते वक्त और निकलते वक्त हाथों को अच्छी तरह सेनेटाइजर करना भी न भूलें।

उन्होंने कहा कि दुकानदार (विक्रेता) भी इस बात का पूरा ख्याल रखें कि वह दुकान-शो रूम पर पूरे समय मास्क लगाकर रखें। ें हाथों की स्वच्छता का भी ख्याल रखें। पटाखों की चंद सेकेंड की रोशनी और धमक पूरे जीवन को स्याह बना सकती है, इसलिए दीपावली पर घर-परिवार को पटाखों से दूर रखें। कोरोना व अन्य संक्रामक बीमारियों को देखते हुए इस बार पटाखों से तौबा करने में ही हर किसी की भलाई है। पटाखे जलाना ही है तो ग्रीन पटाखों का चयन करें। यह जरूर ध्यान रखें कि सेनेटाइजर लगे हाथों से कतई पटाखों को न छुएं क्योंकि सेनेटाइजर का अल्कोहल व अन्य केमिकल पटाखों के बारूद के संपर्क में आते ही उत्साह के रंग में भंग डाल सकता है।