भारतीय क्षत्रिय एकता महासभा के द्वारा जिलाधिकारी बाँदा के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन,

 भारतीय क्षत्रिय एकता महासभा के द्वारा जिलाधिकारी बाँदा के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन,



 संवाददाता बाँदा :- आज भारतीय क्षत्रिय एकता महासभा के द्वारा जिला अधिकारी बाँदा के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें उनके द्वारा बताया गया कि जनपद महोबा केशर एवं पेट्रोलपम्प व्यवसायी विकलांग  संदीप सिंह उर्फ सोनू पुत्र  ब्रजराज महोबा अपने दोस्तों के साथ व्यवसायिक कार्य से झॉसी गये थे। वापसी मे कस्बा रानीपुर थाना-मऊरानीपुर जिला झॉसी के बस स्टैण्ड पर चाय-नाश्ता करने हेतु रुके, उसी दौरान बस स्टैण्ड मे पहले से मौजूद जहां पर कुछ दबंगों ने मारपीट की थी जिसकी सूचना मृतक के द्वारापुलिस चौकी रानीपुर  में अभियुक्तों का अन्तर्गत धारा-151 जाoफौ0 मे चालान कर दिया और वह दूसरे दिन छूट गया जिसकी सूचना मिलने पर नेता को गहरा आघात लगा और आत्महत्या कर ली


आपको बता दें कि केशर एवं पेट्रोलपम्प व्यवसायी विकलांग  संदीप सिंह उर्फ सोनू चाय-नाश्ता करने हेतु बस स्टैण्ड रानीपुर में रुके, उसी दौरान बस स्टैण्ड मे पहले से मौजूद कस्बा रानीपुर निवासी मुकेश यादव, चन्दू कोरी,बिरजू सोनी, , शिशुपाल यादव , दीपू यादव, तथा अखिलेश यादव पुत्रगण अज्ञात पता

अज्ञात गाड़ी खड़ी करने को लेकर विवाद गाली गलौज करने लगे मना करने पर लात, जूता, चप्पलों से बुरी तरह मारपीट करने लगे।

  संदीप सिंह द्वारा यह विनती करने  कि वह विकलांग है उसे मत मारो और भी जोरो से मारा पीटा और  संदीप सिंह के गले से सोने से मढ़ी रुद्राक्ष की माला भी छीन ली। उसी मध्य स्थानीय पुलिस आ गयी आर दोनो पक्षों को पुलिस चौकी रानीपुर ले गयी काफी अनुनय विनय करने के बाद भी पुलिस द्वारा उनकी कोई रिपोर्ट नही लिखी गयी और संदीप सिंह आदि की डाक्टरी करवाकर उन्हे देर रात्रि भगा दिया गया तथा मारपीट करने वाले उपरोक्त अंकित अभियुक्तों का अन्तर्गत धारा-151 जाoफौ0 मे चालान कर दिया गया दूसरे दिन  संदीप सिंह को यह ज्ञात हुआ उक्त सभी अभियुक्तगण निजी मुचलके पर छोड़ दिये गये है तो उन्हें बहुत गहरा आघात लगा और घर आकर अपने पिता की लाइसेंसी रिवाल्वर से आत्म हत्या कर ली।

 मौके पर स्थानीय पुलिस को उनके द्वारा लिखित सुसाइड नोट भी बरामद हुआ,जिससे उन्होने रानीपुर मे घटित राष्ट्रीय अध्यक्षउक्त घटना में हुई बेइज्जती से आत्म ग्लानि होने और मऊरानीपुर (जिला झॉसी) पुलिस द्वारा अभियुक्तों के विरुद्ध कोई ठोस कार्यवाही न किये जाने से क्षुब्ध हो जाने एवं बेइज्जती से हुई आत्मग्लानि के कारण आत्महत्या करना अंकित किया है साथ ही आत्महत्या के लिये

उक्त अपराधियों को दोषी ठहराते हुये उनके विरुद्ध कड़ी कानूनी कार्यवाही करने की मांग की है। इस संबंध में छत्रिय एकता महासभा के द्वारा जिलाधिकारी बांदा के माध्यम से मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन सौंपा गया जिसमें दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने की मांग की गई है।