मीटर रीडरों को कार्य के अनुरूप वेतन न दिए जाने एवं अधिक कार्य करवाए जाने के संबंध में दिया अधिशासी अभियंता एवं श्रम आयुक्त को भेजा ज्ञापन

 मीटर रीडरों को कार्य के अनुरूप वेतन न दिए जाने एवं अधिक कार्य करवाए जाने के संबंध में दिया अधिशासी अभियंता एवं श्रम आयुक्त को भेजा ज्ञापन



फतेहपुर।  मीटर रीड रो को कार्य के अनुसार पिछली कंपनी एंन सॉफ्ट हर महीने ₹8400 देती थी और उसका टारगेट भी 1500 बिल प्रत्येक मीटर रीडर का था। परंतु 1 नवंबर से नई कंपनी स्टॉलिग ट्रांसफॉर्मर बिलिंग कार्य करने जा रही है जिसमें बिलिंग कलेक्शन एवं मीटरिग मीटर रीडरों को ही करना होगा। स्टर्लिंग कंपनी का प्रत्येक रीडर को  1800बिल बनाने का टारगेट दिया गया है। जो कि असंभव है विभाग और कंपनी के द्वारा अत्यधिक कार्य के लिए भी कंपनी  सभी मीटर रीडरों को कार्य के अनुरूप वेतन नहीं दे रही है ।नई बिलिंग कंपनी के अनुसार मीटरों को दिया जाने वाला बिल के अनुरूप वेतन नहीं दे रही है ।मीटर रीडरों के हिसाब से वेतन का प्रोबलीब ₹4 प्रति बिल, muबिल 3रु प्रतिबिल,अन मीटर बिल ₹1 प्रतिदिन अन्य  सभी मीटर रीडरों के  मांगे हैं।प्रति बिल ₹10 दिया जाए प्रत्येक मीटर रीडर को 1200 से अधिक का टारगेट न दिया जाए। मीटर डीलरों को नई कंपनी में नियुक्ति के लिए कंपनी खुद से प्रति रीडरों को मोबाइल प्रिंटर पोब आदि उपकरण उपलब्ध कराए जाएं । मीटर रीडिंग हेतु पेट्रोलिंग खर्च का वाहन एव  मोबाइल डाटा का खर्च कंपनी द्वारा किया जाए ।वेतन विसंगति को दूर किया जाए प्रतिमाह 1 से 7 तारीख तक वेतन हर हाल में भुगतान कर दिया जाए। कंपनी द्वारा कलेक्शन का कार्य मीटर रीडर द्वारा न कराया जाए। वर्तमान समय में जब तक समान कार्य समान वेतन सरकार के द्वारा निर्धारित नहीं होता है तब तक मीटर रीडर उपरोक्त मांगों के अनुरूप बिलिंग भी प्रकार करेंगे तत्पश्चात सरकार द्वारा समान कार्य समान वेतन लागू होने पर हम लोग वेतन के अनुरूप कार्य करेंगे पिछली सरकार अनंत शॉप में किए गए कार्य 2 माह का वेतन एवं दे दी वापस दिलाई जाए अगर उपरोक्त हमारी मांगे पूरी नहीं होंगी। तो हम सभी मीटर रीडर कार्य नहीं करेंगे।

Popular posts
सदर सीट से प्रमोद द्विवेदी को चुनाव लड़ा सकती हैं भाजपा
चित्र
केशव मौर्या के भाजपा से प्रत्यासी घोषित होते ही समर्थकों ने दागे पटाखे,बांटी मिठाई
चित्र
मकरस्क्रान्ति त्यौहार के शुभ अवसर पर किशनपुर में लगा ऐतिहासिक मेला
चित्र
दारा सिंह चौहान के इस्तीफे से क्या पड़ सकता है सियासत पर बड़ा फर्क
चित्र
कोर्रा कनक किशोरी हत्याकांड में ललौली पुलिस ने किया खुलासा सगा भाई ही निकला हत्यारा।
चित्र